जागरण संवाददाता, पटियाला

पिछले दिनों गैस चैंबर बने पंजाब को प्रदूषण से बड़ी राहत के बाद रविवार को हालात फिर से बदल चुके है। राज्य में एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआइ) बढ़ना शुरू हो गया है। राज्य के जहां सभी शहरों का औसत एक्यूआइ सौ के आंकड़े को पार कर चुका है, वहीं मंडी गोबिदगढ़ और पटियाला एक्यूआइ 300 से पार पहुंच गया। वहीं एक्यूआइ 110 के साथ लुधियाना की हवा की गुणवत्ता सबसे बेहतर रही। वीरवार को पटियाला का एक्यूआइ औसतन 65 और अधिकतम 160 रिकॉर्ड किया गया था, जबकि रविवार तक यह आंकड़ा लगभग पांच गुना बढ़ गया। वहीं मंडी गोबिदगढ़ का एक्यूआइ भी लगभग तीन गुना हो गया है।

बता दें कि दो नवंबर को पंजाब वासी वायु प्रदूषण से सबसे ज्यादा परेशान थे और राज्य के ज्यादातर इलाकों का एक्यूआइ 400 के पार चला गया था, वहीं पटियाला का एक्यूआइ अधिकतम 900 को पार कर गया था। प्रदूषण को देखते हुए राज्य में हेल्थ इमरजेंसी तक लागू करने की नौबत आ गई थी। जिसके बाद चीफ सेक्रेटरी के सख्त आदेशों और बुधवार को बारिश के बाद प्रदूषण के कहर से कुछ हद तक राज्य वासियों ने राहत की सांस ली थी।

------------------

रविवार का एक्यूआइ

औसत(10 पीएम) अधिकतम

अमृतसर 120 185

बठिडा 117 310

जालंधर 113 158

खन्ना 187 264

लुधियाना 110 157

मंडी गोबिदगढ़ 310 486

पटियाला 305 483

रोपड़ 157 409

------------

पराली जलाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई जारी : मेंबर सेक्रेटरी

पंजाब प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड के मेंबर सेक्रेटरी करूणेष गर्ग ने बताया है कि पराली जलाने वालों के खिलाफ विभाग द्वारा खास नजर रखी जा रही है। कोई भी मामला सामने आने के बाद तुरंत संबंधित जिला प्रशासन को जानकारी भेज दी जाती है। उन्होंने बताया कि फिलहाल स्थिति कंट्रोल में है। अगर प्रदूषण का स्तर 400 तक पहुंचता है, तो वह चिताजनक है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!