पटियाला, जागरण संवाददाता: राजिंदरा जिमखाना चुनाव को लेकर प्रोग्रेसिव व रिटर्निंग अधिकारी के बीच चल रहे विवाद के बीच वीरवार को चुनाव हो ही गए। यह चुनाव नवनियुक्त तैनात रिटर्निंग अफसर राकेश गुप्ता की अगुआइ में हुए। सुबह करीब 11 बजे मतदान प्रक्रिया शुरू हुई, जो रात आठ बजे तक चली। इस दौरान 2850 वोट में से 1831 मतदाताओं ने अपने मत का इस्तेमाल किया। इनमें से दो मत रद हो गए। पिछले समय 2007 मतदाताओं ने अपने मत का इस्तेमाल किया था। इस बार मतदान कम होने के कारण बुधवार रात हुआ विवाद माना जा रहा है। अगर सूत्रों की माने तो इस बार प्रोग्रेसिव ग्रुप का क्लब मैनेजमेंट पर कब्जा होने के आसार ज्यादा है। क्योंकि ग्रुप के उप प्रधान डा. मनजीत सिंह निर्विरोध जीत चुके हैं। बता दें कि क्लब के वरिष्ठ सदस्यों ने एनुअल जरनल मीटिंग का आयोजन किया था। इस दौरान गुडविल व प्रोग्रेसिव के अलावा सभी सदस्यों को शामिल किया गया। मीटिंग के दौरान सबकी सहमति से चुनाव करवाने का फैसला लिया गया। मीटिंग के करीब आधे घंटे बाद मतदान प्रक्रिया शुरू हुई। मतदान प्रक्रिया की अगुआइ क्लब के वरिष्ठ सदस्यों ने की ताकि किसी भी प्रकार की कोई बाधा न आए। क्लब के वरिष्ठ नेता व पूर्व प्रधान डा. सुधीर वर्मा ने कहा कि रात आठ बजे तक चली मतदान प्रक्रिया के दौरान करीब 1831 मतदाताओं ने अपने मत का इस्तेमाल किया। इनमें से दो मत रद घोषित किए गए। उन्होंने कहा कि इस बार भी अच्छी वोटिंग हुई है। पिछले वर्ष मतदाताओं का रूझान ज्यादा था, पर हर वर्ष 1800 से लेकर 2000 के बीच ही मतदान होता है। उन्होंने कहा कि शुक्रवार सुबह करीब 11 बजे मतगणना शुरू होगी और परिणाम करीब दो बजे जारी कर दिया जाएगा। जिमखाना क्लब के नियम अनुसार देखें तो यह चुनाव नहीं हो सकता था। सिर्फ रजिस्ट्रार आफ कंपनी द्वारा ही नई कमेटी बनाकर यह चुनाव करवाए जा सकते थे। यहां नियमों का उल्लंघन किया गया है। एडवोकेट विनय वतराणा, पूर्व रिर्टनिंग अधिकारी

Edited By: Deepak Modgil

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट