जागरण संवाददाता, पटियाला : बुधवार को जेईई मेन का रिजल्ट घोषित हुआ। आल इंडिया रैंकिग में पटियाला के गौरिश बांसल ने 431वां, अभिनव ने 512वां, एम भव्या ने 576वां रैंक और राम कुमार गोयल ने 1127वां रैंक पाया। पहला पड़ाव पार करने की खुशी में सभी विद्यार्थियों का कहना था कि अब वे पूरी मेहनत के साथ जेईई एडवांस की तैयारी करेंगे। उन्होंने अपनी सफलता का श्रेय मोबाइल फोन, टीवी व इंटरनेट मीडिया से दूरी को दिया। इसके अलावा उन्होंने अपनी कड़ी मेहनत, मां बाप का आशीर्वाद और अध्यापकों को भी इस सफलता का श्रेय दिया। अभी से जेईई एडवांस की तैयारी शुरू करूंगा

जेईई मेन में 431वां रैंक प्राप्त करने वाले गौरिश बांसल ने बताया कि एग्जाम की तैयारी के दौरान उसने हमेशा मोबाइल से दूरी बनाए रखी। सुबह व शाम को स्ट्डी करता था। इसके अलावा आनलाइन क्लास भी चलती थी। गौरिश ने बताया कि वह अब जेईई एडवांस की तैयारी करेगा। उसकी इच्छा देश के टाप पांच आइआइटी में से किसी एक में एडमिशन लेने की है। पेरेंट्स के सहयोग से ही हासिल किया रैंक

एसएसटी नगर निवासी व आल इंडिया रैंकिग में 512वां रैंक लेने वाले अभिनव का कहना है कि स्ट्डी के दौरान उसके पेरेंट्स का उसे काफी सहयोग मिला। उनकी बदौलत ही वह ये रैंक पा सकता है। एग्जाम के दिनों में आनलाइन क्लास के अलावा खुद भी घर में अलग से तैयारी की। रात को जल्द सोना और सुबह जल्दी उठकर स्टडी करने को रूटीन बनाया। इस दौरान इंटरनेट से दूरी बनाए रखी। दिमाग को फ्रेश रखने को रोज सैर की

आल इंडिया रैंकिग में 576वां रैंक पाने वाली एम भव्या ने बताया कि एग्जाम की तैयारी के दौरान दिमाग पर कोई स्ट्रेस न रहे, इसके लिए रोज सुबह व शाम सैर जरूर करती थी। इसके अलावा शाम को जल्द सो जाती थी, ताकि सुबह तैयारी के दौरान नींद न आए। आनलाइन क्लास लगाने के बाद थोड़ा रेस्ट करके बाद में फिर से तैयारी करती रहीं।

Edited By: Jagran