जागरण टीम, पटियाला, फतेहगढ़ साहिब : बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक दशहरा पर्व शुक्रवार को धूमधाम से मनाया जाएगा। पटियाला में सात और फतेहगढ़ साहिब जिले में कुल 11 जगहों पर रावण, मेघनाद और कुंभकरण के पुतले जलाए जाएंगे। प्रशासन ने इसके लिए पुख्ता इंतजाम कर लिए गए हैं। पटियाला में सबसे ऊंचे सौ फुट के रावण का पुतला बस स्टैंड के नजदीक वीर हकीकत राय ग्राउंड में शिव सेना बाल ठाकरे द्वारा बनवाया गया है। यहां, मेघनाद और कुंभकरण के पुतले 65-65 फुट के हैं। इन पुतलों को बनाने पर दो लाख रुपये का खर्च आया है। वहीं, फतेहगढ़ साहिब जिले में मंडी गोबिंदगढ़ में सबसे ऊंचा रावण का 55 फुट का पुतला जलाया जाएगा।

दश्हरा कमेटी यह पर्व पिछले 15 साल से इसी ग्राउंड में मना रही है। कमेटी के प्रधान हरीश सिगला ने बताया कि कोरोना के बावजूद रावण की ऊंचाई न तो कम होने दी और न ही कोरोना के नियमों का उल्लंघन होने दिया गया है। सिगला ने कहा कि यहां सांसद परनीत कौर बतौर मुख्य मेहमान शामिल होंगी और उनके साथ राजनीतिक, सामाजिक, धार्मिक संगठन भी पहुंचकर भगवन श्रीराम का आशीर्वाद प्राप्त करेंगे। पटियाला में यहां भी जलेंगे पुतले

अर्बन एस्टेट फेज-1

मोदी मंदिर

भगवान परशुराम चौक

एसएसटी नगर

राघोमाजरा डीएमडब्ल्यू में नहीं होगा रावण दहन

इस बार कोविड के कारण डीएमडब्ल्यू कालोनी में रावण दहन नहीं होगा। कमेटी के आयोजक संत कुमार ने बताया कि रावण दहन के दौरान कालोनी में ज्यादा भीड़ होने की आशंका थी। इसी कारण कोविड को देखते हुए कमेटी ने इस बार रावण दहन न करने का फैसला किया है।

Edited By: Jagran