जेएनएन, पटियाला। दूसरी जाति के युवक केे साथ भागने के एक हफ्ते बाद पिता जबरन बेटी को घर ले आया और गुस्से में कत्ल कर दिया। अगली सुबह पांच बजे के करीब श्मशानघाट ले जाकर संस्कार भी कर दिया। शाम को अस्थियां एकत्र करने के बाद परिवार ने इसे विसर्जित करने की सलाह बनाई, लेकिन इससे पहले ही पुलिस को भनक लग गई। थाना बनूड़ के इंचार्ज सुभाष कुमार ने बताया कि पुलिस ने मनौली सूरत गांव निवासी लड़की के पिता राम सिंह व चार अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। पुलिस ने अस्थियां कब्जे में ले ली हैं, जबकि आरोपित पिता फरार है।

बताया जा रहा है कि राम सिंह की बारहवीं कक्षा में पढ़ने वाली 18 वर्षीय बेटी का हरियाणा निवासी एक युवक के साथ लंबे समय से प्रेम प्रसंग था। युवक दूसरी जाति से संबंध रखता था, जिससे घरवाले इस रिश्ते के लिए राजी नहीं थे। बताया जा रहा है कि एक हफ्ते पहले युवती हरियाणा के युवक के पास चली गई थी। इसके बाद घरवालों ने उसकी तलाश की।

इसी दौरान हरियाणा में लॉकडाउन के दौरान पुलिस ने प्रेमी जोड़े को पकड़ लिया और दोनों के परिवारों को थाने में बुलाया। थाने में दोनों परिवारों के बीच राजीनामा करवा लिया गया। इसकेे बाद पुलिस ने लड़केे व लड़की को परिजनों के हवाले कर दिया। लड़की के परिजन उसे घर तो ले आए, लेकिन बेटी के दूसरी जाति के लड़के के साथ जाने से वह दुखी थे। उनके मन मेंं लड़की के

प्रति गुस्सा था। वह लड़की के गैर जाति के लड़के के साथ जाने पर बेइज्जती महसूस कर रहे थे। इसी गुस्से में राम सिंह ने एक अप्रैल तड़के तीन बजे बेटी का कत्ल कर दिया और सूरज चढऩे से पहले ही उसका अंतिम संस्कार भी कर दिया। मामले की भनक लोगों को लगी तो उन्होंने पुलिस को इस बारे में बताया। पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज कर दिया है। युवती का पिता फरार है। 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!