जासं, पटियाला :

एनपीए के खिलाफ डाक्टरों की हड़ताल लगातार जारी है जिसके दौरान 29 जुलाई को डाक्टरों सहित स्टूडेंट्स सफेद कोट व छाता मार्च करेंगे। इसमें मेडिकल कालेज के डाक्टर तो हिस्सा लेंगे ही साथ में मेडिकल व डेंटल स्टूडेंट सहित पीसीएमएस डाक्टर हिस्सा लेंगे। इसमें इंडियन मेडिकल एसोसिशन के डाक्टर व साथी भाग लेंगे। मार्च सुबह नौ बजे होगा।

मेडिकल एंड डेंटल डाक्टर्स एसोसिएशन के कार्यकारी प्रधान डा. विजय बोदल सहित महासचिव डा. डीएस भुल्लर ने कहा कि वे सुबह आठ बजे से 11 बजे तक कामछोड़ हड़ताल तो करेंगे ही साथ में 29 जुलाई को सफेद कोट व छाता मार्च करेंगे। आज भी राजिदरा अस्पताल में तीन घंटे की ओपीडी, जनरल आपरेशन व स्टूडेंट्स की क्लासें बंद रहीं, लेकिन इमरजेंसी व कोविड से जुड़ी सेवाएं जारी रहीं। राज्य के सरकारी डाक्टरों के नान प्रेक्टिस अलाउंस (एनपीए) को 25 प्रतिशत से कम करके 20 प्रतिशत करने के खिलाफ छठे वेतन आयोग के खिलाफ संघर्ष जारी है। आज सुबह मेडिकल और डेंटल से जुड़े डाक्टरों ने डायरेक्टर प्रिसिपल आफिस के बाहर धरना प्रदर्शन किया। पटियाला यूनिट के महासचिव डा. दर्शनजीत सिंह वालिया, स्टेट ज्वाइंट सेक्रेटरी डेंटल डा. नवजोत सिंह खुराना ने कहा वे एक महीने से एनपीए में संशोधन करने के लिए मांग कर रहे हैं, लेकिन सरकार ने अब तक कोई ठोस फैसला नहीं लिया है।

Edited By: Jagran