जागरण संवाददाता, पटियाला : राज्य के डीसी दफ्तरों का क्लेरीकल स्टाफ तीन दिन, यानि बुधवार तक हड़ताल पर रहेगा। खास बात है कि इस हड़ताल को सब रजिस्ट्रार दफ्तर द्वारा भी समर्थन दिया गया है, जिसके चलते सब रजिस्ट्रार दफ्तर में भी प्रापर्टी की रजिस्ट्रियों के काम को पूर्ण तौर पर बंद रखा जाएगा। सोमवार को भी फैसले के बाद दोपहर बाद दफ्तरों में पब्लिक डीलिग का काम बंद रखा गया, जिसके चलते पब्लिक को बिना काम करवाए लौटना पड़ा।

डीसी दफ्तर कर्मचारी यूनियन पटियाला के प्रधान केसर सिंह ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा जिला स्तर पर दो हेड और सात क्लर्कों के पद को खत्म कर दिया गया है। इस कारण राज्य भर में दो सौ से ज्यादा पद खत्म हो गए हैं। जिसके चलते राज्य स्तर पर डीसी दफ्तर कर्मचारियों में रोष है। यही कारण है कि स्टेट कमेटी के आह्वान पर तीन दिन हड़ताल करने का फैसला लिया गया। केसर सिंह ने बताया कि यह हड़ताल बुधवार तक जारी रहेगी और अंतिम दिन बड़े स्तर पर रोष प्रदर्शन किया जाएगा। नंबरदार यूनियन ने रोष मार्च निकाला

नंबरदार यूनियन ने अपनी मांगें पूरी करवाने को लेकर यहां लघु सचिवालय से लेकर सीएम आवास तक रोष मार्च निकाला। इस दौरान रोष मार्च में शामिल नंबरदारों ने सरकार के खिलाफ उन्हें कोई सुविधा न देने पर रोष प्रदर्शन कर नारेबाजी की। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा न तो उन्हें कोई दफ्तर दिया गया है और न कोई सुविधा। जिसके चलते मजबूरन उन्हें यह संघर्ष का रास्ता अपनाना पड़ा। इस दौरान यूनियन सदस्यों ने यहां वाइपीएस चौक पर रोष प्रदर्शन किया।

Edited By: Jagran