पटियाला, जेएनएन। सीएम सिटी में जैसे-जैसे डेंगू के केस बढ़ते जा रहे हैं। वहीं, दूसरी ओर फा¨गग के लिए नगर निगम गंभीर नहीं है। शहर के कुछ इलाकों में फा¨गग न होने से लोगों में निगम के प्रति रोष पाया जा रहा है। गंदगी भी लोगों के लिए समस्या बनी हुई है। लोगों ने समस्या के बारे में अधिकारियों को अवगत करवाया पर आज तक कार्रवाई नहीं की गई। हालांकि, निगम अधिकारियों का कहना है कि फा¨गग करने के लिए अलग से शेड्यूल तैयार करके की फागिंग की जाती है। अगर किसी वजह से अचानक मौसम खराब हो जाता है, तो अगले दिन उन्हीं इलाकों में फा¨गग होगी।

इंस्पेक्टर की होती है जिम्मेदारी

चीफ सेनेटरी इंस्पेक्टर संजीव कुमार का कहना है कि फागिंग करने के लिए एक शेड्यूल तैयार किया गया है। उसके तहत ही शहर में फागिंगकी जाती है। इसकी जिम्मेदारी संबंधित इलाके के इंस्पेक्टर की होती है। संजीव ने कहा कि अगर किसी इलाके में फागिंग न होने की शिकायत उनके पास आती है तो शिकायत को गंभीरता से लेकर उस इलाके में फा¨गग करवाई जाती है।

निगम का फागिंग सिस्टम सही नहीं

शिरोमणि अकाली दल के शहरी प्रधान हरपाल जुनेजा ने कहा कि डेंगू का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। पर दूसरी ओर निगम का फागिंग सही ढंग से नहीं की जा रही। जिसके चलते लोगों में निगम के प्रति रोष पाया जा रहा है। जुनेजा ने कहा कि निगम अधिकारी सरकार को खुश करने पर लगे हुए हैं। फा¨गग करने का शेड्यूल तो बना लेते हैं, पर शेड्यूल के तहत फा¨गग नहीं की जाती। जिसके चलते लोग परेशान हैं।

पूरे इलाके में नहीं होती फागिंग

पंजाब प्रदेश व्यापार मंडल के जिला प्रधान राकेश गुप्ता ने कहा कि निगम फा¨गग तो कर रहा है, पर सही ढंग से नहीं हो रही। जिसके चलते कुछ इलाके फागिंग से छूट जाते हैं। इस तरह की फागिंग करने का क्या फायदा। उन्होंने कहा कि डेंगू के केस बढ़ते जा रहे हैं। जिसके चलते लोगों में डर बना हुआ है। निगम कर्मचारियों की ओर से पूरे इलाके की जगह कुछ में फा¨गग करके निपटा दिया जाता है। उन्होंने कहा कि डेंगू के बढ़ते केसों को देखते हुए निगम को अपना फा¨गग सिस्टम सही करवाने की जरूरत है।

पिछले कई दिनों पहले फा¨गग होते हुए देखा, पर काफी दिन बीत गए, दोबारा फा¨गग नहीं हुई। जबकि निगम को हर इलाके में दोबारा से करवानी चाहिए। डेंगू की बीमारी संबंधी जानकारी मिलती है, सफाई करते हैं, पर मच्छर पैदा होते रहते है। इस लिए निगम को फा¨गग करवाते रहना चाहिए।

--नीलम वर्मा, गुरु नानक नगर निवासी

हमारे इलाके में फागिंग का नामोंनिशान तक नहीं है। पिछले समय में फा¨गग नहीं की गई। इस संबंधी निगम को शिकायत भी करूंगा, ताकि फा¨गग करने वाले कर्मचारियों पर कार्रवाई हो सके। निगम की लापरवाही से लोगों को परेशानी उठानी पड़ रही है। अगर सही ढंग से काम किया जाए तो लोगों को परेशानी नहीं होगी।

--मनजीत सिंह, बहेड़ा रोड निवासी

हमारे इलाके में तो फागिंग होते नहीं देखा, हो सकता है कि इलाके की कुछ जगह पर फागिंग हुई हो। पर यहां हमारी मथुरा कालोनी एक नंबर गली में फागिंग नहीं हुई। अधिकारियों को चाहिए कि फागिंग मानिटरिंग करते रहें। ताकि पता चलता रहे कि किन-किन इलाके में फा¨गग हो चुकी है।

---गुरतेज सिंह, इलाका निवासी

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!