जागरण संवाददाता, पटियाला :

थाना भादसों के अंतर्गत आते गांव पेधन में कैनेडा निवासी एक युवक की बजुर्ग मां का कत्ल हो गया। 21 नवंबर को कनाडा में युवक को पड़ोसियों का फोन आया कि उसकी मां घर पर लहूलुहान पड़ी है। फोन सुनते ही युवक वापिस गांव पहुंचा। पड़ोस के लोगों ने बुजुर्ग महिला की गिरने से सिर पर लगी चोट के कारण मौत होना समझा। बेटे ने पोस्टमार्टम करवाने की बात कही और पुलिस को सूचित कर दिया। पुलिस ने 64 वर्षीय अमरजीत कौर का पोस्टमार्टम करवाया।

27 नवंबर को आई पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चला कि अमरजीत कौर के सिर पर सात चोटें लगी हैं, यानि उनके सिर पर लाठी वगैरह से वार कर उनकी हत्या की गई है। पुलिस ने मृतका के बेटे हरप्रीत सिंह के बयानों पर भादसों थाना में अज्ञात लोगों के खिलाफ कत्ल केस दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

यह है मामला

घटना के अनुसार 42 वर्षीय हरप्रीत सिंह विवाहित है जो कैनेडा में अपने परिवार के साथ रहता है। गांव देधन निवासी हरप्रीत सिंह के पिता बलजिदर सिंह का करीब चार साल पहले देहांत हो गया था। ऐसे में उसकी मां अमरजीत कौर घर में अकेली रहती थीं, 21 नवंबर को हरप्रीत को पड़ोसियों ने फोन करके बताया कि उसकी मां की घर पर गिरने की वजह से सिर पर चोट लगी है जिससे उनकी मौत हो गई है। फोन सुनने के बाद हरप्रीत सिंह ने हियाणाकलां गांव नाभा निवासी अपने मामा भिदर सिंह को फोन करके घटना की जानकारी दी। मामा ने तुरंत मौके पर पहुंचने के बाद शव को एक निजी अस्पताल में रखवा दिया। 25 नवंबर को हरप्रीत के कनाडा से अपने गांव पहुंचने के बाद उसने पुलिस को सूचना दी। इसके बाद पुलिस ने लाश का पोस्टमार्टम करवाया। 27 नवंबर को पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चला कि हरप्रीत की मां अमरजीत कौर के सिर पर सात जगह चोटें लगी थी, जिस वजह से उनकी मौत हुई है।

कनाडा जाने की तैयारी में थी अमरजीत कौर

हरप्रीत सिंह ने बताया कि परिवार में वह इकलौता है और करीब 17 सालों से कनाडा में रहता है। शादी के बाद परिवार भी कनाडा में है। कुछ साल पहले उसने माता-पिता का कनाडा का वीजा अप्लाई किया था, लेकिन बीमारी के चलते पिता के देहांत हो गया। ऐसे में फाइल कैंसल कर दोबारा लगानी पड़ी थी और उसकी मां अमरजीत कौर का वीजा मंजूर हो गया था। दो महीने के अंदर ही उसकी मां अमरजीत कौर कनाडा जाने वाली थी। ऐसे में घर पर उनकी देखभाल पड़ोसी व गांव में रहने वाले उनके जानकार करते थे। परिवार में अमरजीत कौर के जेठ व देवर भी है लेकिन वह लोग भी विदेश में ही रहते हैं। प्रापर्टी और लूट के एंगल से जांच शुरू

इकलौता बेटा व अन्य सभी रिश्तेदारों के विदेश में रहने की वजह से अमरजीत कौर अकेली रहती थी। करीब एक महीने पहले ही अमरजीत कौर का जेठ कैनेडा से परिवार सहित लौटा था, लेकिन वह इन दिनों अपनी पत्नी की रिश्तेदारी में गया हुआ था। गांव में अमरजीत कौर की बहन रहती है, जिसका बेटा सबसे पहले घर पहुंचा था। भादसों थाना पुलिस इस मामले में लूट व प्रापर्टी के एंगल से पड़ताल में जुटी है।

सीसीटीवी फुटेज की जांच कर रहे हैं : एसएचओ

थाना भादसों के इंचार्ज सुखदेव सिंह ने कहा कि मृतका के घर पर कोई सीसीटीवी कैमरा नहीं लगा है, ऐसे में पड़ोसियों के घरों पर लगे कैमरों की फुटेज चैक कर रहे हैं। इसके अलावा काल डिटेल्स व टावर लोकेशन चेक की जा रही है, जिससे कत्ल करने वालों की पहचान कर उन्हें गिरफ्तार कर सकें।

Edited By: Jagran