संवाद सहयोगी, डमटाल : ब्लॉक इंदौरा के मंड एरिया में ग्रामीणों ने क्रशर संचालकों के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। ठाकुरद्वारा में वाहनों की आवाजाही से परेशान लोगों ने क्रशर गाड़ियों के गुजरने पर रोक लगा दी है। वीरवार देर रात को गाड़ियों को निकालने को लेकर ग्रामीणों और क्रशर मालिकों में टकराव की स्थिति पैदा हो गई है। इस कारण ठाकुरद्वारा गांव में क्रशर से लदे 20 से अधिक हैवी ट्रक बीच गांव में फंस गए। गुस्से में भड़के लोगों ने ओवरलोडेड ट्रक की हवा निकाल दी तथा प्रशासन से उचित कार्रवाई करने की मांग पर अड़े रहे। ठाकुरद्वारा में लगे जाम के कारण स्कूल की बसें भी बच्चों को स्कूल समय पर नही पहुंचा पाई। उपाध्यक्ष राम कुमार शर्मा, हरबंस लाल पिका भारद्वाज, सन्नी, विकास शर्मा, काका, अशोक कुमार, विपिन शर्मा, शम्मी कुमार, चंचल, रघु, कमल ने कहा कि ये सब ओवरलोडेड गाड़ियां हैं और इनकी बिलिग भी नाममात्र की गई तथा यह सारा माल पंजाब को सप्लाई करते हैं। इनका चालान करना उचित हल नहीं है, इन पर कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए।

वहीं, ठाकुरद्वारा के चौकी प्रभारी जीत सिंह ने क्रशर से लदे गाड़ियों के चालान काटे और दस्तावेज न दिखाने पर 6 गाड़ियों से 90 हजार रुपये जुर्माना वसूला है। एआरडीओ आरके शर्मा ने बताया कि मामले की पड़ताल की जा रही है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!