संवाद सहयोगी, घरोटा :

पंजाब सरकार गांवों में स्वच्छ जल उपलब्ध करवाने के लिए प्रयासरत है। इसके तहत गांव पपियाल में 52 लाख रुपये की लागत से नई वाटर सप्लाई स्कीम का नीव पत्थर समिति सदस्य राणा राजिद्र सिंह की देखरेख में रखा गया। इस दौरान मुख्य अतिथि के रूप में पंजाब प्रदेश कांग्रेस के पूर्व सचिव अवतार सिंह ठाकुर पहुंचे व उन्होंने नीव पत्थर की रस्म निभाई।

उन्होंने कहा कि पपियाल में नई वाटर सप्लाई के निर्माण होने पर दो गांव नवापिड व पपियाल की दो दशकों से चली आ रही समस्या का समाधान होगा। लोगों को अब अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए अन्य जल स्रोतों व दूषित पेयजल से छुटकारा मिलेगा। 31 मार्च से पहले इस स्कीम को तैयार कर जनता को समर्पित किया जाएगा।

इस स्कीम में 25 हजार लीटर की समर्थ की टंकी, 3700 मीटर लंबी पाई लाईन विछाने के अतिरिक्त 132 घरों को फ्री कनेक्शन दिए जाएंगे। वहीं इस मौके पर सरपंच कमलेश कुमारी व सरपंच अश्वनी कुमार ने संयुक्त रूप में पंजाब सरकार व विधायक का आभार किया। इस मौके पर जेई जगनेश कुमार, जरनैल सिंह, अश्वनी कुमार, अजमेर सिंह पठानिया, सरपंच अश्वनी कुमार, सरपंच गौतम सिंह, युद्धवीर सिंह, सुभाष चंद्र भी उपस्थित थे। गांव लजेरां व टीका भटोली के लोगों ने की सड़क बनवाने की मांग

इधर, दुनेरा के गांव लजेरां व टीका भटोली के लोगों को अपने घरों व जमीन तक पहुंचने के लिए पगडंडियों का सहारा लेना पड़ रहा है। लोगों की इस समस्या को देखते हुए जीओजी धार ब्लाक के प्रधान सुमन कल्याण सिंह ने शाम सिंह, मनोहर लाल व गणेश कुमार के साथ दौरा किया।

उन्होंने बताया कि लगभग 400 एकड़ जमीन में किसानों ने करीब 20 एकड़ जमीन में आम, संतरा व आंवले के बगीचे लगाए हुए हैं, परंतु उन्हें अपने घरों एवं जमीन तक पहुंचने के लिए सड़क की सुविधा उपलब्ध नहीं हो पा रही है। उन्हें अपने घरों को केवल पगडंडियों के सहारे ही जाना पड़ता है जिसके कारण छोटे बच्चों को स्कूल आने जाने के लिए यहां परेशानी हो जाती है। वहीं जब कोई व्यक्ति बीमार हो तो उसे चारपाई पर लेटा कर चार व्यक्ति उठाकर गांव की मुख्य सड़क तक पहुंचाते हैं। लोगों ने सरकार से मांग की है कि उनके घरों एवं जमीन तक गाड़ी, ट्रैक्टर ले जाने के लिए लगभग 1 किलोमीटर कच्ची सड़क ही बना दी जाए ताकि लोगों को परेशानी ना उठानी पड़े। इस मौके पर रघुनाथ पठानिया ,सरपंच विजय कुमार ,जनक सिंह ,करण सिंह ,अजय सिंह ,बलदेव सिंह आदि उपस्थित थे।