संवाद सहयोगी, सुजानपुर

सांझा अध्यापक मोर्चा की ओर से डीसी दफ्तर के बाहर कन्वीनर सतपाल वर्मा, अमरजीत ¨सह, कौशल कुमार, संजय कुमार व अमनदीप की अध्यक्षता पंजाब सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया तथा पुतला फूंका गया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार अध्यापकों की मांगों को हल करने के प्रति गंभीर नहीं है। सरकार की ओर से अध्यापक विरोधी रवैया अपनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कच्चे अध्यापकों को पूरे वेतन पर रेगुलर किया जाए। एसएसए रमसा अध्यापकों को विभाग में पूरे स्केल पर रेगुलर किया जाए। तबादलों में राजनीतिक दखअंदाजी बंद की जाए। संघर्ष के दौरान किए गए अध्यापकों के तबादले व सस्पेंशन को रदद किया जाए। पढ़ो पंजाब पढ़ाओ पंजाब प्रोजेक्ट को बंद कर बच्चों की सिलेबस के अनुसार पढ़ाई करवाई जाए। उन्होंने कहा कि पंजाब बॉडी के फैसले के अनुसार 2 दिसंबर को पटियाला में इसके विरोध में पूर्ण जाम किया जाएगा। उन्होंने कहा कि जब तक अध्यापकों की मांगो को पूरा नहीं किया जाता तब तक उनका संघर्ष चलता रहेगा। इस मौके पर अमरजीत कुमार, सतनाम ¨सह, दीपक कुमार, देस राज, प्रमोद कुमार, दविन्द्र ¨सह, अश्वनी कुमार, करनैल ¨सह, अमरजीत शास्त्री, बोध राज, विजय सैनी आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!