संवाद सहयोगी, घरोटा : किसी वस्तु को ईश्वर से बढ़कर मत समझो ईश्वर से बढ़कर किसी का भी कोई मूल्य नहीं है। यह उद्गार साध्वी कृष्णा बहन ने व्यक्त किए। वह कंदरोड़ी आश्रम में आयोजित सत्संग कार्यक्रम में भक्तों के उमड़े जनसैलाब को संबोधित कर रही थी। साध्वी कृष्ण बहन ने जप, कीर्तन, नियम, त्रिकाल संध्या, ईश्वर साक्षत्कार के अतिरिक्त सनातन संस्कृति पर विस्तारपूर्वक प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि भौतिक पदार्थो में क्षणिक भौतिक पदार्थो, विषयों को सत्य समझना, दुख, दर्द, और ¨चता को लाना है। उन्होंने कहा कि इस दुनिया में किसी भी व्यक्ति, दुनायवी चीज में अपना दिल लगाया तो मनुष्य को अंत में रोना ही पडे़गा, यह निश्चित है। साध्वी कृष्णा बहन ने ईश्वर के मार्ग पर चलने वाले भक्तों को बताते हुए कहा कि उन्हें ईश्वर को अपना मानना चाहिए। जप, ध्यान, पूजा को प्रेम से करने और गुप्त रखने को प्रेरित किया। इस मौके पर पूर्व विधायक हरबंस लाल कोटला, जेएन शर्मा, पंकज भाई, आशा राम सैनी, दयाल ¨सह, प्रेम शर्मा, गौरख यादव, राम पलियाल, शक्ति कुमार, संतोष, अवतार ¨सह, मदन शर्मा , मदन सलारिया, कर्ण ¨सह, प्रमोद कुमार, मंजीत कौर समेत अन्य भी भारी संख्या में उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!