संवाद सहयोगी, पठानकोट : सेहत विभाग की ओर से वीरवार को जिले में करीब सभी ब्लाकों में वैक्सीनेशन करीब 35 कैंप लगाए गए। वीरवार को 1392 लोगों ने को-वैक्सीन का टीका लगवाया है, वहीं बात करें 5597 लोगों ने कोविशील्ड का टीका लगवाया है। कुल मिलाकर वीरवार को 6991 लोगों की कोविड वैक्सीनेशन हुई है।

गौर करने वाली बात है कि लोगों में अब टीकाकरण के प्रति जागरूकता बढ़ी है इसी वैक्सीनेशन केंद्रों पर भीड़ बढ़ गई है। वहीं जानकारी मुताबिक जिले में कई केंद्रों पर तीन घटे के अंदर ही वैक्सीन खत्म हो गई, जिस कारण लोगों को लोगों को निराश होकर लौटना पड़ा। सूत्रों के मुताबिक शुक्रवार को वैक्सीनेशन कमी हो सकती है। इसलिए विभाग ने सिर्फ चार केंद्रों पर ही वैक्सीनेशन कैंप लगाने का का फैसला लिया है। इस बारे में सेहत विभाग के अधिकारियों का कहना है कि वैक्सीन डिमाड चंडीगढ़ भेजी गई है। गौर हो कि जिले में 35 शिविरों में कोरोनारोधी टीकाकरण किया जाता है। बुधवार को 8395 लोगों को वैक्सीन लगाई गई थी।

आज तीन कैंप कोवैक्सीन और एक कैंप कोविशील्ड के लिए लगेगा

जिले में शुक्रवार की सुबह तीन कोवैक्सीन के कैंप सेहत विभाग की ओर से लगाए जाएंगे और एक कोविशील्ड का कैंप लगाया जाएगा। जिला सेहत विभाग के पास कुछ डोज बाकी बच गई है जिसे वह शुक्रवार को लगाने जा रहा है। वेटरनरी अस्पताल में एक कोवैक्सीन व एक कोविशील्ड वैक्सीन का कैंप लगाया जाएगा। इसी तरह राधा स्वामी भवन व निरंकारी भवन में भी को वैक्सीन का कैंप ही लगाया जाएगा।

कोविड अपडेट: न कोई पाजिटिव, न कोई स्वस्थ और न ही कोई मौत

संवाद सहयोगी, पठानकोट : वीरवार को जिला सेहत विभाग के पास आई सैंपलों की रिपोर्ट में किसी भी नए व्यक्ति की रिपोर्ट कोरोना पाजिटिव नहीं पाई गई है। वहीं राहत की बात यह सामने आई है कि किसी की कोरोना से मौत भी नहीं हुई है। एसएमओ डा. राकेश सरपाल ने कहा कि कोरोना पीड़ित कोई भी मरीज वीरवार को स्वस्थ भी नहीं हुआ है। लोगों से मिल रहे सहयोग के कारण जिला अब कोविड मुक्त हो रहा है। लोग ऐसे ही विभाग का सहयोग करते रहें ताकि जल्द की कोरोना वायरस से छुटकारा मिल सके।

Edited By: Jagran