जागरण संवाददाता, नवांशहर : सातवें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर जिला प्रशासन और आर्ट आफ लिविग के प्रयास से आयोजित तीन दिवसीय राज्य स्तरीय वचुर्अल इम्युनिटी बूस्टर कार्यक्रम का सोमवार को समापन हो गया। आर्ट आफ लिविग के शिक्षकों ने विशेष रूप से नाड़ी शोधन प्राणायाम, मर्जरीआसन, शिशुआसन, भुजंगासन, सेतुबंदासन, पवनमुक्तासन, मकरासन, भस्त्रिका प्राणायाम, कपालभाति और ध्यान द्वारा प्रत्येक प्रक्रिया को विस्तार से समझाया। वहीं सभी ने जश्न के तौर पर 'आओ मिलकर साथ चले और योग करें' गीत पर झूम कर लुफ्त उठाया।

इस दौरान आर्ट आफ लिविग की पूरी टीम ने डीसी डा. शेना अग्रवाल, एसएसपी अलका मीणा, जिला शिक्षा अधिकारी सरदार जगजीत सिंह, सिविल सर्जन डा. जीएस कपूर, आयुष विभाग के डा. निरपाल शर्मा को ऐसा कार्यक्रम नवांशहर में करवाने के को लेकर उनके प्रयासों के लिए धन्यवाद दिया। पंजाब स्टेट टीचर कोआर्डिनेटर विवेक बंसल ने भी योग दिवस का पूरी दुनिया को तोहफा देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का धन्यवाद दिया। पंजाब स्टेट टीचर कोआर्डिनेटर रेणु कामरा ने मेडिटेशन करना सिखाया। कहा कि योग के बाद मेडिटेशन करने से शरीर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। आर्ट आफ लिविग द्वारा सिखाई जाने वाली सुदर्शन क्रिया की तकनीक के बारे में भी बताया।

भारत शिक्षण मंडल से संजीव दुग्गल ने कहा कि जो लोग इस शिविर के माध्यम से पहली बार योग में शामिल हुए हैं, उन्हें इस शिविर में सिखाई जाने वाली तकनीकों का अपने घर में प्रतिदिन अभ्यास करना चाहिए। कार्यक्रम समन्वयक मनोज कण्डा ने कहा कि हम सभी को अपने स्वास्थ्य को बनाए रखने और अपने समाज को एक सुंदर समाज बनाने का संकल्प लेना चाहिए। जिला स्तरीय वर्चुअल कार्यक्रम में विभिन्न सरकारी स्कूल के प्राचार्यो, शिक्षकों, शिक्षा विभाग, पुलिस विभाग, स्वास्थ्य विभाग और अन्य विभागों के प्रतिभागियों ने भाग लिया।

Edited By: Jagran