संवाद सहयोगी, राहों : सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल (लड़कियां) राहों को जल्द ही नया रूप देकर स्मार्ट स्कूल बनाया जाएगा। ये जानकारी डिप्टी डीईओ सेकेंडरी नरिदर पाल वर्मा व डिप्टी डीईओ एलिमेंट्री छोटू राम ने दी। वीरवार को दोनों डिप्टी डीईओ राहों स्कूल का मुआयना करने पहुंचे। स्कूल प्रिसिपल बलजिदर सिंह ने मुलाकात करके स्मार्ट स्कूल बनाने के लिए विचार विमर्श किया। उन्होंने बताया कि पंजाब सरकार व शिक्षा विभाग की हिदायतों पर सरकार की स्कूलों में बच्चों को बढि़या सुविधाएं प्रदान करने के लिए सरकारी स्कूलों को स्मार्ट स्कूल या सेल्फ मेड स्मार्ट स्कूल बनाया जा रहा है। इमारत के साथ-साथ पार्क, इको फ्रेंडली शौचालय, खेल का मैदान, हरा-भरा गार्डन, तथा इंटरलॉक टाइलें लगा कर नया रूप दिया जाएगा। वहीं मिशन शतप्रतिशत को कामयाब करने के लिए अध्यापकों के खाली पद भी भरे जाएंगे ताकि बच्चों की पढ़ाई के स्तर को बढ़ाया जा सके। बच्चों में शिक्षा के प्रति रुचि बढ़ाने के लिए साइंस पार्क, भूगोल पार्क तथा मैथ पार्क विशेष तौर पर बनाए जाएंगे। ताकि बच्चों को नए तरीके से पढ़ाया जा सके। इस दौरान स्कूल विकास कमेटी का गठन किया गया, जिसमें प्रिसीपल बलजिदर सिंह, अजीत सिंह, मनजिदर सिंह, निशी रानी, निधी नंदा, सतिदर पाल कौर, दर्शन लाल माही चेयरमैन एसएमसी तथा एसएमसी के समूह सदस्यों को शामिल किया गया है। इस अवसर पर पार्षद महिदर सिंह संधू, पार्षद मोहन लाल जांगड़ा, राजविदर सिहं संधू, अजीत सिंह, मनजिदर सिंह, दर्शन लाल माही, चिरंजी लाल, सुरजीत कौर, सतिदर पाल कौर, निधी नंदा, निशी रानी आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!