संवाद सहयोगी, नवांशहर: गणपति बप्पा मोरया, अगले बरस तुम जल्दी आना.. के जयघोषों के साथ श्रद्धालुओं द्वारा मंगलवार देर शाम भगवान श्री गणेश की मूर्ति का विसर्जन सतलुज दरिया में कर दिया गया। इसी के साथ टीचर कालोनी में आयोजित किए गए नौवें विशाल श्री गणपति उत्सव कार्यक्रम का विधिवत समापन किया गया। इससे पहले सुबह पंडित संदीप द्वारा भगवान श्री गणेश जी का पूजन व हवन यज्ञ करवाया गया। जिसमें ओबराय परिवार, छिदे परिवार व क्लब सदस्यों ने आहुतियां डाली। इसके बाद गाडि़यों के काफिले के साथ गणपति जी की महिमा का गुणगान करते हुए गणपति बप्पा मोरया अगले बरस तुम जल्दी आना.., देवा हो देवा गणपति देवा स्वामी तुम से बढ़ कर कौन.., माई फ्रेंड गणेशा.., गणपति होए दयाल.., मैं निकला गड्डी ले के.., मेरा गणपति जिस ते दयाल हो गया.. आदि भजनों के साथ विसर्जन यात्रा निकाली गई।

इस विसर्जन यात्रा में धार्मिक भजनों पर नृत्य करते हुए श्रद्धालुओं ने गणपति जी की महिमा का गुणगान किया और पूरी यात्रा में झूमते रहे। वहीं कुछ श्रद्धालु अपने घरों में स्थापित भगवान की मूर्ति को विसर्जित करने के लिए इसी विसर्जन यात्रा में शामिल हुए। विसर्जन यात्रा टीचर कालोनी से न्यू टीचर कालोनी, बाबा बालक नाथ मंदिर, वाल्मीकि नगर, रविदास नगर व रेलवे रोड से होते हुए सतलुज दरिया की ओर रवाना हुआ। सतलुज दरिया पहुंचकर विधिवत पूजन करने के बाद छिदे परिवार ने अगले गणपति उत्सव का संकल्प लिया। इसके बाद गणपति बप्पा, रिद्वि-सिद्धि जी व अन्य प्रतिमाओं को एक-एक कर सतलुज दरिया में विसर्जित कर दिया गया। इसके बाद वहां संगत ने लंगर में प्रसाद ग्रहण किया। कुछ भक्तों ने माथा टेकने के बाद विसर्जन की माटी भी साथ ली। इस मौके पर कमेटी प्रधान विवेक मारकंडा, एडवोकेट परमजीत बक्शी, पार्षद जसप्रीत कौर बडवाल, डा. हरकेश स्नेही, शंकर छिदे, योगेश मरवाहा, राज कुमार सौंधी, अनिल सहगल, संजीव गाबा, राजेश गाबा, जतिदर सैंगर, सविता सौंधी, रंजना छिदे, रोजी दीवान, नीलम दीवान, मने, स्वीटी, सर्वजीत शिदी, ओंकार सिंह, रमन, रत्न ओबराय आदि उपस्थित रहे।

Edited By: Jagran