जागरण संवाददाता, नवांशहर : बलाचौर के विधायक चौधरी दर्शन लाल मंगुपुर के समर्थन में प्रचार शनिवार दोपहर ढाई बजे मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी का कार्यक्रम निश्चित था। बारिश होने के बाद भी लोग मुख्यमंत्री को सुनने के लिए आ रहे थे, पर साढ़े चार बजे मुख्यमंत्री चन्नी आए। इस दौरान पंडाल में बैठे हुए लोग चन्नी जिदाबाद के नारे लगाने लगे। चन्नी ने पंडाल में आते ही लोगों से मिलना शुरू किया व करीब 20 मिनट तक वो पंडाल में रहे। लोग उनसे मिलने के लिए आगे आ रहे थे पर सिक्योरिटी उनको आगे आने नहीं दे रही थी। वो लोगों से हाथ जोड़ कर मिल रहे थे। इस दौरान मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने मीडिया से भी दूरी बनाई रखी। लोग मांग कर रहे थे कि चन्नी लोगों को संबोधित करें पर सीएम बिना बोले ही वहां से निकल गए।

कोरोना प्रोटोकाल का पालन करना जरूरी है

चरणजीत सिंह चन्नी ने लोगों से कहा कि प्रदेश में कोरोना प्रोटोकाल का पालन करना जरूरी है। लोगों की भीड़ को देखते हुए उन्होंने कहा कि अगर वो स्टेज पर बोलेंगे तो कोरोना प्रोटोकाल का उल्लंघन होगा। प्रोटोकाल की उल्लंघना वो नही कर सकते हैं। विधायक चौधरी दर्शन लाल मंगुपुर के आवास स्थान पर पहुंच कर उन्होंने कहा कि विधायक की ओर से कांग्रेस पार्टी के कुछ कार्यकर्ताओं के साथ बैठक रखी गई थी, पर दाना मंडी में हजारों की संख्या में लोग पहुंच गया। अगर वो लोगों को संबोधित करते तो यह चुनाव आयोग की ओर से लगाई गई चुनाव आचार संहिता भी उल्लंघन होता।

Edited By: Jagran