जेएनएन, नवांशहर : फूड सेफ्टी विग ने जिले के विभिन्न इलाकों में असिस्टेंट कमिश्नर मनोज खोसला के नेतृत्व में जांच अभियान चलाया गया। टीम ने जिले के बंगा और गुनाचौर क्षेत्रों से सात सैंपल भरे व 70 किलो की मिठाई को नष्ट किया। दूसरे जिलों व अन्य राज्यों से आने वाले खोये, पनीर व मिठाइयों की चेकिग के लिए बंगा में नाका भी लगाया गया। इस दौरान चार हलवाइयों को वर्कशॉप में सुधार के लिए नोटिस जारी किया गया। टीम ने बाकी हलवाइयों को नियमों का पालन करने व मिठाइयों में किसी प्रकार की मिलावट न करने के निर्देश दिए।

खोसला ने बताया कि त्यौहारों में मिलावट को रोकने व गुणवत्ता वाली मिठाइयां व खाद्य पदार्थ उपलब्ध करवाने के लिए विभाग ने जांच अभियान चलाया है। बंगा और गुनाचौर इलाकों की सभी मिठाई की दुकानों का निरीक्षण किया, जिसमें रंगीन और खोये से तैयार मिठाई के सैंपल भरे गए। उन्होंने बताया कि गुलाबी रंग के चमचम, खोया बर्फी, कलाकंद, मिल्क केक, रसगुल्ला और गुलाब जामुन के सैंपल शामिल हैं। इसके अलावा टीम ने सभी दुकानों में से कुल 70 किलोग्राम गुलाब जामुन और गुलाबी चमचम नष्ट कर दिया जो खाने के योग्य नहीं थे। इसके अलावा चार दुकानों को सुधार का नोटिस जारी किया गया है। इस दौरान कार्रवाई में खाद्य सुरक्षा अधिकारी संगीता सहदेव भी मौजूद थीं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!