संवाद सहयोगी, बलाचौर

श्री सतगुरु भूरीवाले गुरु गद्दी परंपरा के दूसरे गद्दीनशीन ब्रह्मालीन सतगुरु लाल दास महाराज भूरीवालों के 132वें अवतार दिवस को समर्पित तीन दिवसीय संत समागम मनाया गया। इस समागम की अध्यक्षता श्री रामसर मोक्ष धाम टप्परियां खुर्द में मौजूदा गद्दीनशीन आचार्य चेतनानंद महाराज ने की। कोविड-19 के मद्देनजर सरकार और प्रशासन की हिदायतों के अनुसार इस दौरान संगत को इकट्ठा नहीं किया गया और लाइव प्रसारण से लोगों को इससे जोड़ा गया।

इस अवसर पर आचार्य चेतनानंद महाराज ने कहा कि सतगुरु रकबे वाले शांति के पुंज थे और उपकार की मूर्ति थे। उन्होंने संगत को सादगी और शांति भरा जीवन जीने के लिए प्रेरित किया। समाज पिछड़ा क्षेत्र होने के बावजूद भी सर्वक्षीय विकास करवाया। उन्होंने समाज सेवा और नामवाणी के लिए अपना पूरा योगदान डाला।

इस दौरान जगतगुरु आचार्य बाबा गरीबदास रचित वाणी के अखंड पाठ के भोग डाले गए। इस दौरान स्वामी हरबंस लाल ब्रह्माचारी, स्वामी फुम्मण दास, स्वामी सतदेव ब्रह्माचारी मौजूद रहे। संगत के सहयोग से पीजीआइ चडीगढ़ को देसी घी से तैयार लंगर भेजा गया। वहीं संगत ने आचार्य के उपदेश को मानते हुए घरों और गांवों की कुटिया में देसी घी के दीप जलाकर देग प्रसाद के भोग लगाकर सतगुरु रकबे वालों का अवतार दिवस श्रद्धाभाव से मनाया।

-----------

बाबा नामदेव का अवतार दिवस मनाया

संवाद सहयोगी, बलाचौर

संत शिरोमणि बाबा नामदेव का 671वां अवतार दिवस बलाचौर के सुज्जोवाल रोड पर स्थित बाबा नामदेव मंदिर में बड़ी धूमधाम से मनाया गया। इस दौरान हवन के उपरांत सुंदर कांड के रखे पाठ का भोग डाला गया। कीर्तन मंडली ने कीर्तन किया। इस अवसर पर अटूट लंगर भी बरता गया, जोकि देर शाम तक चलता रहा। इस दौरान अशोक कुमार, प्रेम कुमार, बारू राम, पवन कुमार, रुलदू राम, कृष्ण लाल, हरिदेव, जयदेव, अजीत कुमार, विपन कुमार, लाडी, सोनू आदि सहित बड़ी संख्या में श्रद्धालु मौजूद थे।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021