संवाद सूत्र, मलोट (श्री मुक्तसर साहिब)

राज्य की पूर्व अकाली सरकार के समय खिलाड़ियों के लिए स्टेडियम को बनाने के लिए साल 2016 में रखे नींव पत्थर के बाद अभी तक भी स्टेडियम पूरा नहीं हो पाया है। हालांकि इस कार्य को साल 2017 में खत्म होना था।

स्टेडियम को बनाने वाली सरकारी एजेंसी मंडी बोर्ड से डाली गई आरटीआइ से मिली जानकारी के अनुसार बहुमंतवी खेल स्टेडियम को बनाने का कार्य 10 जुलाई 2016 को नींव पत्थर रखकर शुरू हुआ था जोकि 21 फरवरी 2017 को पूरा होना था। इस स्टेडियम पर चार करोड़ 84 लाख 64 हजारर दो सौ 55 रुपये खर्च होने थे व अब तक इस स्टेडियम पर एक करोड़ 65 लाख रुपये खर्च हुए हैं। काफी समय से फंड की कमी के कारण इस स्टेडियम को बनाने का कार्य रुका हुआ है। इसका नींव पत्थर पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल द्वारा रखा गया था। यदि इस स्टेडियम को बनाने का कार्य जल्द ही शुरू न हुआ तो स्टेडियम पर खर्च की गई एक करोड 65 लाख भी बर्बाद होती दिख रही है।

हलके के पूर्व विधायक हरप्रीत सिंह का कहना है कि अकाली- भाजपा सरकार का यही प्रयास रहा कि नौजवानों को खेलों की ओर कैसे उत्साहित किया जाए। इसके लिए पंजाब में जहां विश्व स्तर के कबड्डी मुकाबले करवाए गए। गांवों में नौजवानों के लिए जिम बनाए गए, खेल स्टेडियम बनाए गए। इसी कड़ी के तहत ही इलाके के लोगों की सहूलियत के लिए शहर की महावीर गोशाला के पास इस स्टेडियम को बनाने के कार्य शुरू किया गया था जिसे कांग्रेस सरकार पूरा करने में नाकाम साबित हुई है। इनसेट

जल्द पूरे करवाएंगे काम : विधायक

विधायक व डिप्टी स्पीकर अजैब सिंह भट्टी का कहना है कि फंड की कोई कमी नहीं है। मामला उनके ध्यान में है व निजी दिलचस्पी लेकर कार्य को जल्द पूरा करवाएंगे। इनसेट

फंड की कमी से रुका है काम : एक्सईएन

मंडी बोर्ड के एक्सईएन जगरूप सिंह के अनुसार फंड की कमी के कारण ही कार्य रुका हुआ है। सरकार से फंड लाने के प्रयास किए जा रहे र्ह। जैसे ही सरकार से फंड आ जाएगा तभी इस कार्य को शुरू करवा दिया जाएगा।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!