जागरण संवाददाता, श्री मुक्तसर साहिब कोटली रोड पर गांधी की चक्की के पास हर तीसरे दिन सीवरेज के पानी के ओवरफ्लो होकर सड़क पर भरने की समस्या ने क्षेत्र के लोगों के नाक में दम कर दिया है। सीवर के मैनहोलों से ओवरफ्लो हो रहे गंदे पानी से सड़क का यह हिस्सा अक्सर ही तालाब का रूप अख्तियार किए रहता है जहां से निकलना लोगों के लिए मुश्किल हो जाता है।

यह समस्या क्षेत्र में बनी हुई पशु डेयरियों की वजह से पैदा हो रही है। पशुओं का गोबर व बिखरा हुआ चारा सीवरेज में जा रहा है जिससे पूरा सीवरेज सिस्टम ही जाम होकर रहा जाता है। करीब दो साल से चली आ रही इस समस्या का संबंधित विभाग की ओर से कोई स्थायी समाधान नहीं किया जा रहा है। जबकि क्षेत्र के लोग डीसी तक को भी कई बार शिकायतें दे चुके हैं। यह समस्या पिछले कई दिनों से फिर से बनी हुई है।

क्षेत्र के निवासियों कमल कुमार, संतोष रानी, हरो देवी, रानी, बिमला रानी, शीलू कुमार, इंदर, ओम प्रकाश, भान चंद, सोनू कुमार, पुष्पा रानी आदि ने बताया कि कोटली रोड घनी आबादी वाला क्षेत्र हैं। वे लोग पिछले दो सालों से नरक भरी जिदगी जीने को मजबूर हैं। क्षेत्र में कई पशु डेयरियां हैं जिनका गोबर सीवरेज में जा रहा है जिससे सीवरेज जाम हो जाता है। गंदा पानी ओवरफ्लो होकर करीब 150 फीट एरिया में सड़क पर भर जाता है। गंदे पानी से रास्ता बंद हो जाने से उनका न केवल अपने घरों में आना-जाना बंद हो जाता है, बल्कि दुर्गंध से अपने घरों में खाना पीना भी दूभर हो जाता है। छोटे बच्चों को स्कूल भेजने में मुश्किल खड़ी हो जाती है। पिछले दो सालों से वे अनगिनत बार सीवरेज विभाग, नगर कौंसिल और यहां तक डीसी को भी शिकायतें दे चुके हैं। लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है। सीवरेज विभाग के कर्मचारी एक बार सीवरेज लाइन की सफाई कर चले जाते हैं, लेकिन उनके जाने के बाद फिर से वही समस्या पैदा हो जाती है। जब तक पशु डेयरियों का गोबर सीवरेज लाइन में जाना बंद नहीं होता, तब तक इस समस्या का पक्का हल नहीं होने वाला है। इनसेट

जल्दी किया जाएगा समस्या का समाधान : एसडीओ

जल सप्लाई व सेनिटेशन विभाग के एसडीओ रमिदरपाल सिंह बेदी ने कहा कि पिछले दिनों हुई बारिश के कारण सीवरेज अभी तक दुरुस्त नहीं हो पाया है। इसलिए यह समस्याएं आ रही हैं। कोटली रोड की समस्या का जल्दी ही समाधान कर दिया जाएगा।

Edited By: Jagran