संवाद सहयोगी, मोगा

सीता स्वयंवर कला केंद्र की ओर से सोमवार की रात शहीदी पार्क में रामलीला का मंचन किया गया। तीसरी नाइट में दरबार उद्घाटन राइस ब्रान डीलर एसोसिएशन के सरपरस्त राज कमल कपूर ने किया। ध्वजारोहण योग शिक्षिका अनमोल शर्मा, अमृतलाल शर्मा जबकि स्टेज का उद्घाटन वार्ड 42 के पार्षद गौरव गुप्ता गुड्डू ने किया।

रामलीला की तीसरी नाइट में पात्रों राजा जनक के दरबार में सीता स्वयंवर का दृश्य पेश किया। राजा जनक ने समस्त योद्धाओं को आमंत्रित किया। एक एक करके सभी योद्धा शिव धनुष को तोड़ने में विफल होते देख राजा जनक ने कहा कि इस स्वयंवर में कोई वीर योद्धा नहीं जो उनकी पुत्री के काबिल हो। तब लक्ष्मण और राजा जनक के संवाद उपरांत जैसे ही भगवान श्री राम ने गुरु विश्वामित्र की आज्ञा से धनुष को तोड़ा दर्शकों का पंडाल जय श्री राम के जयकारों से गूंजने लगा। इस दौरान लक्ष्मण परशुराम का संवाद का दृश्य भी पेश किया। रामलीला में श्री राम की भूमिका गगन, लक्ष्मण की मुकेश, दशरथ की राजेश, राजा जनक की ओमप्रकाश व विश्वामित्र की भूमिका रशपाल ने अदा की। समागम दौरान प्रभु राम की गाथाओं पर आधारित प्रश्न मंच का आयोजन किया गया। सही जवाब देने वालों को सम्मानित किया। मुख्य अतिथि पार्षद गौरव गुप्ता गुड्डू ने संस्था द्वारा करवाए जा रहे इस धार्मिक आयोजन की शुभकामनाएं देते कहा कि हमें युवा पीढ़ी को इस तरह के समागमों से जोड़ना चाहिए ताकि उन्हें सही दिशा मिल सके।

प्रधान देवप्रिय त्यागी व अन्य सदस्यों ने आए अतिथियों का सम्मान किया। तीन अक्तूबर तक चलने वाली रामलीला में रोजाना रात नौ बजे से शुरू होगी। इस अवसर पर प्रोजेक्ट चेयरमैन परमजीत सिंह गिल, राजेश चांद, सीनियर उप प्रधान गगनदीप मितल, उप चेयरमैन डा. राजेश कोछड़, कैशियर बलविदर अरोड़ा, बलदेव सिंह खालसा ,पार्षद विजय खुराना, सुरिदर डब्बू, सोनू शर्मा, राजन कौड़ा, प्रेस सचिव सोनू जैसवाल, शिवा, डायरेक्टर जीवन बराड़, कृष्ण बानिया, राहुल बालम, सुरिदर बांसल, ओम प्रकाश, रोबी, राहुल वर्मा के अलावा अन्य उपस्थित थे।

Edited By: Jagran