संवाद सहयोगी, मोगा : देवीदास केवल कृष्ण चेरिटेबल ट्रस्ट में साप्ताहिक अध्यात्म सत्यार्थ सत्संग व हवन करवाया गया। यज्ञ की मुख्य यजमान इंदू पुरी रहीं। इंदू पुरी ने कहा कि शाकाहारी व सात्विक भोजन खाएं। संयम से खाएं। भूख से थोड़ा कम ही खाएं। अधिक खाने से रोग हो सकते हैं। अकसर लोग स्वाद के कारण मात्रा से अधिक भोजन करते हैं और फिर अनेक रोगों को निमंत्रण देते हैं। ईश्वर उपासना करके ईश्वर से शक्ति प्राप्त करें। गो आदि प्राणियों को भी थोड़ा भोजन चारा प्रतिदिन दें। अच्छे वैदिक ग्रंथों का स्वाध्याय करें। ईश्वर को साक्षी मानकर सब कार्य करें। इन कार्यों को करने से आपका मानसिक व बौद्धिक संतुलन बहुत अच्छा बना रहेगा और आप रोगी होने से बचे रहेंगे। देवी दास केवल कृष्ण चेरिटेबल ट्रस्ट के आचार्य सुनील कुमार ने बताया कि पैसा, जमीन, मकान, सोना-चांदी आदि ये सब बाद के साथी हैं। सबसे पहला साथी 'उत्तम स्वास्थ्य' है। पहले उसकी रक्षा करें। प्रतिदिन बहुत से लोग आपसे मिलते हैं। आपसे हर रोज बातें करते हैं। आपको चाहते हैं। आप उनके लिए एक अच्छे मित्र, साथी, भाई, बहन, पति, पत्नी आदि कुछ भी संबंध वाले हो सकते हैं। वह दूसरे लोग तब तक आपको चाहते हैं, जब तक आपसे प्रेम करते हैं। जब तक आप स्वस्थ हैं। इसलिए अपने स्वास्थ्य का पूरा ध्यान रखें। यह आपका उत्तम साथी है। अपनी शारीरिक रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए अपने घर में वैदिक विधि से प्रतिदिन यज्ञ करें। कार्यक्रम में श्री सत्यप्रकाश उप्पल, कुलवीर चौहान, मंजू गुलाटी, सविता गोयल एवं रामपाल गोयल, प्रोमिला मेनराय, अनु गोयल, कुणाल ग्रोवर, उषा ग्रोवर, पंकज गोयल व बलविदर हाजिर थे।

Edited By: Jagran