संवाद सहयोगी, मोगा : मोगा के वार्ड नंबर 19 के अधीन आती खूनी मसीत रोड पर लोग पिछले लंबे समय से सीवरेज जाम की समस्या से जूझ रहे है, लेकिन नगर निगम द्वारा लोगों की समस्या पर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा, जिसको लेकर वार्ड के पार्षद पति बोहड़ ¨सह ने इलाका वासियों के सहयोग से नगर निगम को चेतावनी दी है कि अगर 14 सितंबर तक इलाके में सीवरेज की समस्या का कोई स्थाई समाधान नहीं किया गया तो सभी लोग निगम के खिलाफ 15 सितंबर को धरना देकर निगम का विरोध करेंगे।

बताया जा रहा है कि वार्ड 19 के उक्त हिस्से में जहां 21 सौ से ज्यादा वोटर है। गत दिनों हुई बैठक में 29 लाख के विकास कार्यों को करवाने के लिए संघर्ष के बाद टेंडर पास करवाए जाने के बावजूद भी अभी तक विकास कार्य शुरू ही नहीं हो पाए है, जिसके परिणाम स्वरूप इलाके की सड़कों व गलियों की हालत खस्ता हो गई है। वही नालियों में जमा हुई गंदगी व सड़कों पर जमा होने वाले गंदे पानी के आलम में रहने को मजबूर होने समेत बीमारियों की चपेट में आने से डर रहे है । सप्ताह में तीन से चार दिन सीवरेज रहता है बंद

इलाकावासी विजय कुमार, मनजीत ¨सह ने बताया कि उक्त इलाके में पुराने समय में सीवरेज की छोटी लाइन डाली गई थी। आज इलाके का दायरा बढ़ गया है, जिसके कारण उक्त इलाके की सीवरेज लाइन सप्ताह में कई कई बार बंद हो जाती है। जिसके कारण इलाके की हर गलियों से सीवरेज का पानी बह कर सड़कों पर फैल जाता है। लेकिन उक्त समस्या नगर निगम के ध्यान में है फिर भी निगम के अधिकारियों की ओर से कोई समाधान नही किया जा रहा है। पूरे इलाके में है एक सफाई कर्मचारी

इलाका वासी सुरेन्द्र कुमार व अन्य ने बताया कि उनके इलाके की साफ-सफाई सुचारू न होने के कारण बदबू का आलम छाया रहता है। वहीं नालियों में भरी गंदगी के साथ-साथ पानी की निकासी सही न होने के कारण गंदा पानी सड़क पर फैलने के साथ-साथ उनके घरों की दीवारों में भी समा रहा है जिसके कारण उनके घरों के अंदर हरदम सीलन पैदा होती है। उन्होंने बताया कि उक्त इलाके में निगम द्वारा एक सफाई सेवक तैनात किया हुआ है। ऐसे में उनकों खुद ही नालियों की सफाई करनी पड़ती है । विकास कार्य नही हो पा रहे है शुरू: बोहड़ सिंह

इस संबंध में पार्षद दलबीर कौर के पति बोहड ¨सह ने कहा कि उनके इलाके में 29 लाख के विकास कार्य होने के लिए प्रस्ताव पारित किए जा चुके हैं। लेकिन आज तक विकास कार्यों को तो क्या शुरू करना था। वहीं उनके इलाके की सीवरेज की समस्या को हल करने की ओर नगर निगम द्वारा कोई ध्यान नही दिया जा रहा है। बोहड ¨सह ने निगम अधिकारियों को चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर 15 सितंबर तक वार्ड की समस्याओं को हल करने की ओर कोई ध्यान नही दिया गया तो वह वार्ड निवासियों व अन्य पार्षदों के सहयोग निगम परिसर में धरना देंगे।

Posted By: Jagran