जासं, मानसा : स्टेट मिनिस्ट्रियल सर्विस यूनियन की प्रदेश स्तरीय बैठक रेड क्रास भवन बरनाला में की गई। प्रदेश कमेटी के फैसले के अनुसार जिला मानसा के विभिन्न विभागों के कर्मचारियों ने सुबह दस से दोपहर 12 बजे तक रेड क्रास भवन के समक्ष एकत्रित होकर पंजाब सरकार के खिलाफ रोष जताया और सरकार की ओर से जारी किए गए आदेश 'नो वर्क, नो पे' की कॉपियां जलाई गई।

इस मौके पर यूनियन के नेता जसदीप सिंह चहल, जसवंत सिंह मौजो व लाल सिंह ने कहा कि सरकार की ओर से सरकारी कर्मचारियों की मांगों को अनदेखा कर उनके संवैधानिक अधिकारों को छीना जा रहा है, जिसे कभी सहन नहीं किया जाएगा।

इस मौके नेताओं ने मांग करते हुए कहा कि डीए की बकाया किश्त जारी की जाए, पे कमिशन की रिपोर्ट लागू की जाए, प्रोफेशनल टैक्स बंद किया जाए व जायज मांगों को पहल के आधार पर पूरा किया जाए।

उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा 'नो वर्क, नो पे' जैसे कानून बनाकर कर्मचारियों शोषण सोषण किया जा रहा है, जिसे सहन नहीं किया जाएगा। इस मौके जसपाल सिंह सुपरिंटेंडेंट ग्रेड वन, गुरमीत सिंह सुपरिंटेंडेंट ग्रेड टू, रघवीर सिंह, प्रदेश कमेटी के सदस्य व वाटर सप्लाई विभाग पंजाब के प्रधान जसदीप सिंह चहल, जसवंत सिंह मौजो, लाल सिंह, शंकुतला देवी, सर्बजीत सिंह, चंचल कौर, रमनदीप कौर, हरबंस कौर, पूजा रानी, बलविंदर सिंह, बलजिंदर सिंह, मनदीप सिंह, सुखचैन सिंह, प्रितपाल सिंह, गुरदर्शन सिंह, हरदेव सिंह, वीरविदर कौर, नेहा सिगला, हरदेव सिंह, विनोद कुमार, प्रताप सिंह, प्रवाजपाल सिंह, बलौर सिंह, राकेश कुमार, इंदरजीत सिंह, सुमनदीप सिंह व डीसी दफ्तर, एसडीएम दफ्तर, तहसील दफ्तर, खजाना दफ्तर, वाटर सप्लाई विभाग के कर्मचारी मौजूद थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!