संवाद सहयोगी, मानसा : जिले के लिए खुशखबरी है कि इस साल स्कॉच ग्रुप ने जिला परिषद मानसा को दो राष्ट्रीय अवार्ड से सम्मानित किया। जिले को यह अवार्ड खोखर कलां में बनाए गए पार्क और प्रधान मंत्री आवास योजना (ग्रामीण) और मनरेगा स्कीम की कनवरजेंस के अंतर्गत तैयार किए जा रहे घरों के लिए प्राप्त हुए हैं। डीसी मानसा बलविन्दर ¨सह धालीवाल ने जिले को दो अवार्ड मिलने के बाद खुशी जताई व कहा कि इसका सेहरा जिला कोआर्डिनेटर मनदीप ¨सह व मनरेगा टीम को दिया है। उन्होंने ने हिदायत की कि मनरेगा स्कीम अधीन लोगों का जीवन स्तर ऊंचा उठाने के लिए लिए जाए अधिक से अधिक काम मनरेगा के तहत करवाए जाएं। एडीसी (विकास) गुरमीत ¨सह सिद्धू ने बताया कि जिले के लिए यह मान वाली बात है कि इस साल दो अवार्ड मानसा जिले को मिले हैं। जिस तहत खोखर कलां में बनाया गया पार्क न केवल सैलानियों की खींच का केंद्र है, बल्कि आमदन के स्रोत के तौर पर भी उभरा है। इस के अलावा प्रधान मंत्री आवास योजना (ग्रामीण) और मनरेगा स्कीम के अंतर्गत बन रहे घरों के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि 1 लाख 20 हजार रुपये की राशी प्रधान मंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के अंतर्गत दी जाती है और लाभार्थी को अपना मकान बनाने समय 90 दिनों का मेहनताना मनरेगा स्कीम अधीन दिया जाता है। इस के अलावा जितना घरों में शौच नहीं हैं, उनके घरों में स्वच्छ भारत के अंतर्गत शौच की उसारी भी की जाती है। जिले में कुल 1210 घर उक्त कनवरजेंस के अंतर्गत लिए गए हैं।

स्कॉच ग्रुप बारे में उन्होंने ने बताया कि स्कॉच ग्रुप द्वारा सभी देश में अवार्ड देने के लिए प्रोजेंक्ट संबंधित अर्जियां की मांग की जाती है और जो प्रोजेक्ट विलक्षण डाले जाते हैं। उन्होंने प्रोजेक्ट्स संबंधित प्रजेंटेशन देने के लिए नई दिल्ली में बुलाया जाता है। इस सारी प्रक्रिया के बाद प्रोजेक्ट को अवार्ड देने के लिए चयन की जाती है। उन्होंने ने बताया कि पिछले साल भी स्कॉच ग्रुप द्वारा जिला परिषद मानसा को सोक-पिट प्रोजेक्ट और मॉडल आंगनबाड़ी मगनरेगा स्कीम अधीन लागू करने के लिए दिए गए थे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!