मानसा, जागरण टीम: शहर की आबादी के तीसरे हिस्से के लाइनपार रहते लोगों के लिए स्थानीय रामसरा रेलवे फाटक किसी मुसीबत से कम नहीं है। यहां हर समय जाम लगा रहता है। व्यापार विंग आप के शहरी प्रधान मुरारी लाल पेसिया ने कहा कि एशिया की सबसे बड़ी गुरु हरगोबिंद सिंह रिफाइनरी का मेन गेट गांव रामसरा में फाटक पार होने और रामा रेलवे स्टेशन पर अनाज की स्पेशल माल गाड़ियां भरे जाने के कारण रामसरा फाटक से 24 घंटे रोजाना हजारों की संख्या में बड़े ट्रकों की आवाजाई होती है।

इससे फाटकों के दोनों तरफ 24 घंटे लंबा जाम लगा रहता है। पेसिया ने कहा कि लाइनपार रहते लोगों की जिंदगी रामसरा फाटक पर ही खत्म हो रही है क्योंकि 24 घंटे जाम लगे रहने के कारण फाटक खुलने के बाद भी बंद वाली स्थिति ही बनी रहती है।

स्पेशल मालगाड़ी आने और जाने समय रोजाना कई कई घंटे फाटक के बीच खड़ी रहती है, जिस कारण लाइनों पार लोगों को बाजार में से वाहन के जरिए तो क्या पैदल अपने घर आने जाने के लिए कई-कई घंटे फाटक पर ही इंतजार करना पड़ता है। इमरजेंसी मरीज तो फाटक पर ही दम तोड़ देते हैं। उन्होंने रेलमंत्री से मांग की कि लाइनपार रहते लोगों की सार लेते हुए रामसरा रेलवे फाटक पर पहल के आधार पर अंडर या ओवरब्रिज बनवाया जाए।

Edited By: MOHAMMAD AQIB KHAN

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट