जासं, मानसा : मजदूर मुक्ति मोर्चा पंजाब की गांव उभ्भा इकाई ने श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाशोत्सव को समर्पित कांफ्रेंस का आयोजन किया। मोर्चा के पंजाब प्रधान कामरेड भगवंत सिंह समायो ने कहा कि पंजाब की कैप्टन सरकार गरीबों को रिहायशी प्लाट देने की बजाए पंचायती जमीन प्राइवेट घरानों को देने के रास्ते पर चल रही है।

उन्होंने कहा कि पंचायती जमीन पर प्राइवेट कंपनियों का कब्जा किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। संसद में पेश किए जा रहे नागरिकता संशोधन बिल की निदा कर उन्होंने कहा कि मोदी सरकार नागरिकता संशोधन बिल पास करने की बजाए रोजगार एक्ट पास करें। उन्होंने दलित-मजदूरों से अपील करते कहा कि 18 दिसंबर को मानसा में की जा रही दलित-जबर विरोधी और अधिकार रैली में अधिक से अधिक पहुंचें। इस अवसर पर सरकारी स्कूल के अलग-अलग क्षेत्रों में अव्वल रहे बच्चों का सम्मान भी किया गया। कॉफ्रेंस को प्रगतिशील स्त्री सभा की नेत्री कामरेड जसवीर कौर, सीपीआइ एमएल लिबरेशन के सूबा समिति मेंबर गुरजंट सिंह, पंजाब किसान यूनियन के बीरबल सिंह, मजदूर नेता भोला सिंह, गुरसेवक सिंह, नाहर सिंह, जग्गा सिंह उभ्भा, सतनाम सिंह, नायब सिंह व काला सिंह ने संबोधित किया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!