जेएनएन, लुधियाना। नगर निगम हाउस में पार्षद अपने वार्ड की समस्याओं को लेकर मेयर और कमिश्नर को घेरने में लगे रहते हैं। उनका मकसद अपने वार्ड की समस्याओं को दूर करवाना होता है। पर इस चक्कर में निगम हाउस में शहर के प्रमुख प्रोजेक्टों पर चर्चा नहीं हो पाती। यहां तक कि कई बार माहौल तनावपूर्ण हो जाता है। हाउस बैठक में फैसला लिया गया था कि अब जोन लेवल पर जोनल कमिश्नर पार्षदों की समस्याएं सुनेंगे और हल निकालेंगे। सोमवार को जोन ए में पार्षदों की बैठक हुई। इसमें नगर निगम के अफसर और सीनियर डिप्टी मेयर शाम सुंदर मल्होत्रा भी मौजूद रहे। पार्षदों ने फिर से निगम अफसरों पर वार्ड की समस्याओं को अनदेखा करने का आरोप लगाया और उन्होंने अफसरों पर जमकर भड़ास भी निकाली।

बैठक के दौरान वार्ड नंबर एक से पार्षद दिव्या दानव के पिता विजय दानव ने नगर निगम की जगह पर हो रहे कब्जे का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि वार्ड एक में निगम की 1700 गज से ज्यादा जमीन है। पर निगम अफसर उस पर चारदीवारी नहीं कर रहे हैं। इस वजह से कुछ लोग उस पर कब्जा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस बारे में कमिश्नर तक को शिकायत दे चुके हैं लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। इस पर अफसरों ने जवाब दिया कि उसके लिए कानूनी राय ली जा रही है।जोनल कमिश्नर कुलप्रीत सिंह ने बैठक में सभी पार्षदों को विश्वास दिलाया कि उनकी समस्याओं को अफसर गंभीरता से लेंगे।

वार्ड दो और तीन में सीवरेज जाम, दूषित पानी का उठा मुद्दा

बैठक में वार्ड नंबर दो से अकाली पार्षद गुरमेल ¨सह ने सीवरेज जाम और दूषित पेयजल की सप्लाई का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि हाउस बैठक में भी यह मुद्दा उठाया गया था फिर भी अफसरों ने इस तरफ ध्यान नहीं दिया। वहीं वार्ड तीन से कांग्रेस पार्षद पल्लवी विनायक ने भी निगम अफसरों को घेरा। उन्होंने भी कहा कि उनका वार्ड सीवरेज जाम और दूषित पानी की समस्या से जूझ रहा है, लेकिन अफसर काम करने को तैयार नहीं है।

भाजपा पार्षद रतड़ा ने अतिक्रमण की समस्या उठाई

इसके अलावा भाजपा पार्षद ओमप्रकाश रतड़ा ने शहर में हो रहे अतिक्रमण का मुद्दा उठाया। उन्होंने बताया कि सुभानी बिल्डिंग चौक के आसपास और रेड़ी मोहल्ला में लोगों ने सड़क पर ही अपनी दुकानें व कारोबार सजाए हुए हैं। अकाली पार्षद सर्बजीत सिंह लाडी ने अफसरों से कहा कि हर वार्ड में दो-दो कर्मचारियों की नियुक्ति की जाए जो पानी में सीवरेज की मिक्सिंग होने पर उसे रिपेयर कर सकें।

सी. डिप्टी मेयर की अफसरों को दो टूक, पार्षदों की शिकायतों को अनदेखा न करें

इस दौरान सीनियर डिप्टी मेयर शाम सुंदर मल्होत्रा ने अफसरों को दो टूक कहा कि पार्षदों की शिकायतों को अनदेखा न करें। जिसकी शिकायत आती है, उसे प्राथमिकता के आधार पर हल करें। उन्होंने कहा कि पार्षद तभी अफसरों तक शिकायत करता है जब समस्या ज्यादा गंभीर होती है और लोगों को नुकसान पहुंचाती है। इसलिए अफसर भी उनकी शिकायत को गंभीरता से लें।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!