जागरण संवाददाता, लुधियाना। लोक इंसाफ पार्टी के पूर्व विधायक सिमरजीत बैंस के खिलाफ शिकायत देने वाली शिक्षिका पर स्कूल में घुसी महिला ने हमला कर मोबाइल छीन लिया। हाथापाई के दौरान शिक्षिका घायल हो गई। हमले के बाद महिला कार में फरार हो गई। हालांकि पड़ताल के दौरान पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। एसआइ जसविंदर सिंह ने बताया कि उसकी पहचान पखोवाल रोड के शहीद भगत सिंह नगर निवासी नवजीत कौर के रूप में हुई।

पुलिस ने धांधरां रोड के सतजोत नगर निवासी 38 वर्षीय शिक्षिका की शिकायत पर उसके खिलाफ केस दर्ज किया। अपने बयान में उसने बताया कि शनिवार सुबह 8.50 बजे वह दुगरी स्थित अपने स्कूल में प्रिंसिपल के पास बैठ कर एक प्रोजेक्ट की तैयारी कर रही थी। उसी समय वहां आई उक्त महिला ने गाली गलौज  शुरू कर दिया। उसने कहा कि आपने बैंस के खिलाफ दी शिकायत वापस लेने के बाद दोबारा शिकायत क्यों कर दी। इसके उसे गंभीर नतीजे भुगतने पड़ेंगे।

मोबाइल फोन छीन भी छीना

शिक्षिका ने जब पुलिस को काॅल करने के लिए फोन निकाला तो उसने शिक्षिका के हाथ से उसका मोबाइल फोन छीन लिया। हाथापाई के दौरान शिक्षिका ने उससे फोन वापस तो ले लिया। मगर आरोपित महिला की कार का दरवाजा लगने से वह घायल हो गई और उसके कपड़े भी फट गए। आरोपित महिला काे धमकियां देते हुए फरार हाे गई।

शिक्षिका ने बताया कि उस पर दबाव बनाकर शिकायत वापस लेने के लिए विवश किया गया था। जबकि पुलिस ने शिकायत के बाद जब जांच शुरू की तो उसमें उन सब लोगों की संलिप्तता सामने आई, जिनके नाम उसने शिकायत में दे रखे थे। उसने दावा किया है कि 27 जुलाई के दिन उसने पुलिस कमिश्नर को नई शिकायत देकर कार्रवाई की मांग की है।

बैंस दुष्कर्म मामले में जेल में है बंद

बता दें कि सिमरजीत सिंह बैंस पर दर्ज हुए दुष्कर्म मामले में इन दिनों वह जेल में हैं। सतजोत नगर निवासी महिला शिक्षिका ने जुलाई 2021 में पुलिस कमिश्नर को मेल भेज का शिकायत की थी कि पूर्व विधायक बैंस ने अपने कोट मंगल सिंह स्थित कार्यालय व अन्य जगहों पर उसके साथ दुष्कर्म किया है। मगर सितंबर 2021 में उसने यह कहते हुए वो शिकायत वापस ले ली थी कि उसे ब्लैकमेल डरा धमका कर वो शिकायत कराई गई थी। तब उसने शिअद के हलका आतम नगर से प्रत्याशी हरीश राय ढांडा और कांग्रेस नेता कंवलजीत सिंह कड़वल पर आरोप लगाए थे। जिसके बाद लुधियाना की सियासत में हड़कंप मच गया था।

शिकायत देने के बाद हुआ था ड्रामा

महिला द्वारा जब शिकायत दी गई थी तो उस समय भी सियासी ड्रामा हुआ था। सिमरजीत सिंह बैंस के सियासी विरोधी कंवलजीत सिंह कडवल और उसके साथी गुरविंदर सिंह रिंकल में विवाद भी हुआ था। इस दौरान दोनों तरफ से एक दूसरे के खिलाफ सियासी बयान दिए गए थे। सिमरजीत सिंह बैंस ने कहा था कि उसका सियासी कद खत्म करने के लिए इस तरह की शिकायतें की जा रही हैं। यही कारण है कि उसके खिलाफ इस तरह की महिलाएं खड़ी की जा रही हैं। विरोधियों ने कहा था कि ऐसी कई महिलाएं हैं, जिनके साथ दुष्कर्म किया गया है।

बैंस पर दर्ज है दुष्कर्म का मामला

इसके अलावा एक अन्य महिला ने भी विधायक बैंस के खिलाफ शिकायत दी थी। बैंस को गिरफ्तार कर जेल भेजे जाने तक वो लगातार महीनों पुलिस कमिश्नर के कार्यालय के बाहर धरना लगाकर बैठी रही। क्योंकि वह बैंस की गिरफ्तारी की मांग कर रही है। अदालत के आदेश पर विधायक सिमरजीत सिंह बैंस और उसके 6 साथियों के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज किया गया था।

Edited By: Vipin Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट