जागरण संवाददाता, फिरोजपुर। विदेश जाने का प्रयास कर रहे दो युवकों ने शनिवार को जहर खाकर जीवनलीला समाप्त कर ली। 20 साल के दोनों युवक एक साथ पढ़ाई करते थे। एक मृतक के पिता के मुताबिक विदेश नहीं जा पाने से निराश हाेकर ही दोनों ने यह कदम उठाया। फिरोजपुर के कस्बा तलवंडी भाई में पुलिस ने धारा 174 की कार्रवाई कर शव परिजनों के हवाले कर दिए।

गांव जवाहर सिंह वाला के हरविंदर सिंह और गांव उगोके के लववीर सिंह शनिवार को जालंधर के एक ट्रैवल एजेंट को मिलने गए थे। वापस लौटते हुए दोनों ने तलवंडी भाई में जहर निगल लिया, जिसके बाद हरविंदर सिंह लववीर को छोड़ने उसके गांव जा रहा था। तबीयत बिगड़ने पर दोनों स्थानीय निजी अस्पताल में चले गए जहां उनके परिजनों को सूचित किया गया। हालात बिगड़ने के कारण दोनों को फरीदकोट के अस्पताल में भर्ती किया गया, जहां डाक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। हरविंदर सिंह के पिता हरचंद सिंह के बयानों पर पुलिस के कार्रवाई की।

तीन बहनों का भाई था लववीर सिंह

गांव उगोके का लववीर सिंह तीन बहनों को इकलौता भाई था। लववीर के पिता जुगराज सिंह की मौत हो चुकी है। लववीर सिंह विदेश जाकर काम करने का इच्छुक था और अपने दोस्त के साथ विदेश जाने के लिए कई प्रयास कर चुका था। उसकी मौत के बाद गांव उगोके में मातम का माहौल है। लाेगाें का कहना है कि उन्हें यह विश्वास ही नहीं हाे रहा है कि लववीर आत्महत्या कर सकता है।

इकलौता था हरविंदर सिंह

गांव जवाहर सिंह वाला का हरविंदर सिंह परिवार का इकलौता बेटा था। हरविंदर की मौत के बाद परिवार में दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है। हरविंदर के पिता हरचंद सिंह ने कहा कि स्कूल में पढ़ने के दौरान ही बेटा और उसका दोस्त विदेश जाने की कोशिश करने लगे थे।

यह भी पढ़ें-Loot In Ludhiana: तेजधार हथियार के बल पर 4.59 लाख लूटे, बाइक सवार 6 बदमाशों ने की वारदात

Edited By: Vipin Kumar