जागरण संवाददाता, लुधियाना : अमृतसर में बार्डर एरिया से दो किलो हेरोइन लेकर आए दो तस्करों को पुलिस की एसटीएफ लुधियाना रेंज टीम ने गिरफ्तार किया है। तस्करों ने टाटा-709 टेंपो में बैटरी के बाक्स के पास गुप्त स्थान बना रखा था और उसी में छिपाकर पिछले दो साल से हेरोइन की तस्करी कर रहे थे। पुलिस ने गिरफ्तार दोनों तस्करों डाबा के कबीर नगर निवासी कमलजीत सिंह उर्फ कमल तथा अमर नगर निवासी भूपिदर सिंह उर्फ भिदा का अदालत से दो दिन का रिमांड लिया है। हेरोइन तस्कर गिरोह का सरगना अमर नगर निवासी राजवीर सिंह गिल उर्फ पवन फरार है। एसटीएफ ने उसकी तलाश शुरू कर दी है।

डीएसपी अजय कुमार ने रविवार को बताया कि इंस्पेक्टर हरबंस सिंह को सूचना मिली थी कि दो तस्कर अमृतसर से टेंपो में हेरोइन की खेप लेकर शहर आ रहे हैं। काराबारा चौक सब्जी मंडी के पास नाकाबंदी के दौरान टेंपो को रोका गया। टेंपो की तलाशी के दौरान बैटरी बाक्स के पीछे एक गुप्त बाक्स मिला। उसकी जांच की तो वहां से दो किलो 15 ग्राम हेरोइन बरामद हुई। इस पर टेंपो में सवार कमलजीत व भूपिदर को गिरफ्तार कर लिया।

डीएसपी अजय ने बताया कि पूछताछ में कमलजीत ने बताया कि वह घर में मोटरसाइकिल के पा‌र्ट्स बनाने का काम करता था और टेंपो भूपिंदर का है। उनका तीन सदस्यीय गिरोह है। गिरोह का सरगना राजवीर सिंह गिल उर्फ पवन है। पवन के कहने पर ही वह अमृतसर के बार्डर एरिया से एक व्यक्ति से हेरोइन लेकर आए थे। वह पिछले करीब दो साल से हेरोइन की तस्करी कर रहे थे।

सरगना पवन पर तस्करी के तीन केस, डेढ़ माह पहले जेल से छूटा था

पवन के खिलाफ विभिन्न थानों में हेरोइन तस्करी के तीन केस दर्ज हैं। कपूरथला पुलिस ने उसे डेढ़ किलो हेरोइन के साथ गिरफ्तार किया था। डेढ़ महीना पहले ही वह जेल से जमानत पर छूटा था। बाहर आकर वह फिर साथियों के साथ हेरोइन की तस्करी में संलिप्त हो गया।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021