जागरण संवाददाता, खन्ना :

गांव ईसड़ू निवासी किसान अमरजीत सिंह (52) ने जहरीला पदार्थ निगल कर आत्महत्या कर ली है। परिवार के सदस्यों के अनुसार अमरजीत सिंह के सर पर 10 लाख का कर्•ा था। कर्ज नहीं चुका पाने की सूरत में ब्याज समेत वह 20 लाख बन गया था। उसके पास करीब 5 एकड़ •ामीन थी। लेकिन, फसलों में दो साल से घाटे के कारण वह परेशान था।

मृतक अमरजीत सिंह की पत्नी नछत्तर कौर ने बताया कि उन्होंने बैंक से 10 लाख का कर्•ा लिया था। फसल खराब होने के कारण वे कर्ज लौटा नहीं पाए थे। इस वजह से बैंक के साथ अदालत में केस भी चल रहा है। उनके पति अक्सर इसी वजह से परेशान रहते था। नछत्तर कौर ने बताया कि उसके पति ने वर्ष 2013 में बैंक से 10 लाख रुपए कर्•ा लिया था। बैंक ने 2016 तक 20 लाख रुपए बना दिए।

नछत्तर कौर के अनुसार बैंक के अधिकारी घर आकर जलील करते थे। इससे उसके पति निराश और दुखी रहते थे। वीरवार की रात अमरजीत सिंह ने अपने खेतों में जा कर कोई जहरीली चीज खाकर खुदकुशी कर ली। शुक्रवार की सुबह उसके लड़के ने जब ़फोन किया तो उसके पति ने फोन नहीं उठाया। जब खेतों में जाकर देखा तो उसके पति का शव पड़ा था। मौके पर पहुंची पुलिस ने आवश्यक कार्रवाई के बाद शव परिजनों के हवाले कर दिया।

कर्ज माफी का वादा नहीं हुआ पूरा

मृतक की पत्‍‌नी नछत्तर कौर ने बताया कि पंजाब सरकार ने कर्ज माफी का वादा किया था। लेकिन, उसका एक भी रुपय माफ नहीं हुआ है। यदि सरकार उसका थोड़ा बहुत कर्•ा भी माफ कर देती तो उसका पति ऐसा कदम न उठाता।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!