लुधियाना, [अर्शदीप समर]। महानगर में लगातार जुगाड़ू ऑटो के कारण बढ़ती ट्रैफिक समस्या का हल निकालने के लिए ट्रैफिक पुलिस ने बड़ा कदम उठाने की तैयारी की है। इसका उद्देश्य ट्रैफिक पुलिस की तरफ से जुगाड़ू ऑटो पर शिकंजा कसना है। इसमें आरटीओ विभाग से सभी ऑटो के रजिस्ट्रेशन नंबर लिए गए हैं। इसके बाद रजिस्टर्ड ऑटो को ट्रैफिक पुलिस की तरफ से यूनिक आइडी स्टिकर जारी किया जाएगा।

इसी दौरान इस रजिस्टर्ड डाटा को चौक पर लगे सीसीटीवी कैमरों के सॉफ्टवेयर में भी फीड कर दिया जाएगा। जैसे ही जुगाड़ू ऑटो किसी भी चौक से निकलेंगे तो वहां लगे सीसीटीवी कैमरे जुगाड़ू ऑटो को डिटेक्ट करेंगे और उसका चालान किया जाएगा। इसके साथ ही ट्रैफिक पुलिस की तरफ से भी यूनिक आइडी स्टिकर चेक किया जाएगा। अगर किसी ऑटो पर यूनिक आइडी स्टिकर नहीं लगा होगा तो उस ऑटो को तुरंत जब्त कर लिया जाएगा। डीसीपी ट्रैफिक सुखपाल सिंह बराड़ के मुताबिक जुगाड़ू ऑटो पर शिकंजा कसने के लिए ट्रैफिक पुलिस ने तैयारी कर ली है। इससे ट्रैफिक की समस्या में भी काफी राहत मिलेगी।

जुगाड़ू ऑटो चलाने वाले ड्राइवरों पर भी होगी कार्रवाई

ट्रैफिक पुलिस की तरफ से जुगाड़ू ऑटो पर शिकंजा कसने के लिए सख्ती से कार्रवाई शुरू की जा रही है। इस दौरान जुगाड़ू ऑटो चलाने पर ड्राइवर के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी। इस दौरान ऑटो के दस्तावेज चेक करने के साथ-साथ ऑटो चालकों का ड्राइविंग लाइसेंस भी चेक किया जाएगा। इससे बिना लाइसेंस के ऑटो चलाने वालों पर भी शिकंजा कसा जा सके। ट्रैफिक पुलिस का भी मानना है कि खन्ना, जगराओं, फिल्लौर व मोगा की तरफ ऑटो रजिस्टर्ड करवाने के बाद ऑटो चालक उसे लुधियाना में चलाते हैं, जो ट्रैफिक नियमों को खिलाफ है।

ऑटो लुटेरा गिरोह पर भी कसा जाएगा शिकंजा

जुगाड़ू ऑटो पर शिकंजा कसने पर एक तरफ ट्रैफिक की समस्या का काफी हल होगा। वहीं, पुलिस का मानना है कि अगर रजिस्टर्ड ऑटो ही शहर में चलेंगे तो रात को सवारियों को लूट का शिकार बनाने वाले ऑटो लूट गैंग पर भी शिकंजा कसने में आसानी होगी। यूनीक आइडी स्टिकर लगने के बाद ऑटो के नंबर से ही उसके पते की पहचान हो जाएगी और आरोपितों तक पहुंचने में काफी मदद मिलेगी।

ऑटो चालकों को भी पुलिस करेगी जागरूक

ऑटो के कारण होने वाले सड़क हादसों पर नकेल कसने के लिए पुलिस की तरफ से ऑटो चालकों को जागरूक करने की मुहिम चलाई जाएगी। इसमें सड़क के बीच ऑटो न रोकने, सवारी देखते ही ऑटो को न घूमाने, सिर्फ ऑटो स्टैंड पर ही ऑटो रोकने, ऑटो में पांच से अधिक सवारियां न बिठाने व अन्य कई मामलों को लेकर उन्हें जागरूक किया जाएगा। इसके लिए ट्रैफिक पुलिस की तरफ से स्पेशल टीमें तैयार की जाएगी जो ऑटो स्टैंड पर जाकर ऑटो चालकों को जागरूक करेंगी।  

जुगाड़ू ऑटो पर जल्द ही कसा जाएगा शिकंजा: सीपी अग्रवाल

पुलिस कमिश्नर राकेश अग्रवाल ने कहा कि ट्रैफिक की समस्या का हल निकालने के लिए जल्द ही जुगाड़ू ऑटो पर शिकंजा कसा जाएगा। रजिस्टर्ड ऑटो की लिस्ट पुलिस के पास आ गई है और अन्य अवैध ऑटो चलाने पर सख्ती से कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए सीसीटीवी कैमरों के सॉफ्टवेयर में भी रजिस्टर्ड ऑटो का डाटा दर्ज किया जाएगा।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!