लुधियाना, [भूपेंदर सिंह भाटिया]। पंजाब कांग्रेस में नवजाेत सिंह सिद्धू के बाद लुधियाना के सांसद रवनीत सिंह बिट्टू के तेवर आक्रामक हो गए हैं। बिट्टू ने अपनी पार्टी के सीएम कैप्‍टन अमरिंदर सिंह पर हमला किया है और बड़े सवाल उठाए हैं। उन्‍होंने इंटरनेट मी‍डिया पर लाइव होकर कैप्‍टन अमरिंदर सिंह से कहा, कैप्‍टन साहब! अब भी कुछ कर लो, नहीं ताे हम पीछे रह जाएंगे।

एक बार फिर चर्चा में आए बरगाड़ी कांड के बाद लुधियाना के कांग्रेस सांसद और लोकसभा में कांग्रेस के उपनेता रवनीत सिंह बिट्टू ने फेसबुक पर करीब 21 मिनट लाइव होकर मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को इस मामले में कुछ करने की सलाह दी। सांसद बिट्टू ने कहा, ' कैप्टन साहब, हुण वी कुछ कर लो, नहीं ते पीछे रह जावंगे।' हालांकि इस दौरान सांसद बिट्टू कैप्टन को यह भी आश्वासन देते रहे कि उनके नेतृत्व में आज भी उन्हें भरोसा है और उनके परिवार ने पंथ के लिए जो कुर्बानियां दी है, वह सभी जानते हैं।

बिट्टू ने कहा, सरकार चाहे तो इस मामले में कुछ भी कर सकती है। यदि सरकार ने कोई कड़ा कदम नहीं उठाया तो जनता उन्हें भी उसी कठघरे में खड़ा कर देगी, जहां बादल परिवार को खड़ा किया गया है। सांसद ने स्पष्ट कहा कि चुनाव को छह माह रह गए हैं और तत्काल कदम उठाकर बादल परिवार पर केस दर्ज करें।

बिट्टू ने कैप्टन को उन दिनों की याद भी दिलाई, जब लुधियाना के सिटी सेंटर मामले में उन्हें ( कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ) आरोपित बनाया गया था। उन्होंने कहा कि जब कोर्ट में आपकी, परनीत कौर और आपके पुत्र की पेशी होती थी तब किसी कांग्रेसी विधायक या नेता को आपसे मिलने नहीं दिया जाता था। जो आपसे मिलने कोर्ट आता था उस पर अकाली सरकार रेड करवा देती थी, लेकिन आज जो आरोपित हैं उनकी बसें सरेआम घूमती हैं।

सांसद रवनीत सिंह बिट्टू ने कहा, वह आज टीवी चैनलों पर हो रही डिबेट को सुन रहे थे। उनमें बादलों के साथ कांग्रेस सरकार को भी दोषी बताया जा रहा था। आइपीएस कुंवर प्रताप सिंह का नाम लेकर सांसद ने कहा कि एक समय इसी अफसर को एसआइटी में लगाने की कोर्ट बात करता था और आज वही अफसर अचानक गलत कैसे हो गया। जब बेअदबी केस में न्याय के लिए पूरा पंजाब आपकी सरकार की तरफ देख रहा है और आप पर विश्वास रखता है तब आपने सब कुछ कोर्ट पर छोड़ दिया है। कोर्ट चार पिलर में से एक पिलर है। सरकार भी एक बड़ा पिलर है और वह बहुत कुछ कर सकती है।

बिट्टू ने कैप्टन अमरिंदर सिंह को कहा कि पंजाब में अफसर लाबी आज भी बादल परिवार के साथ है। वह कभी सरकार को सही सलाह नहीं देगी। सरकार को जिम्मेदारी निभानी होगी। दो - तीन माह बाद एक्शन लेंगे तो कोई फायदा नहीं होगा। यह पंजाब है और यहां धर्म के साथ लोगों की भावनाएं जुड़ी हैं। अभी एक्शन नहीं लिया तो चुनाव में लोग गांवों में घुसने तक नहीं देंगे। आपकी सरकार में कोई रिपोर्ट भी सार्वजनिक नहीं होती है। हरप्रीत सिद्धू की ड्रग मामले में रिपोर्ट सार्वजनिक नहीं हुई। बेअदबी मामले की जांच रिपोर्ट का भी वही हाल है।

यह भी पढ़ें: चंडीगढ़ की महिला वकील का दावा- ब्रिटिश राजकुमार प्रिंस हैरी ने किया था शादी का वादा, HC में दी याचिका

 

यह भी पढ़ें: नवजोत सिंह सिद्धू को कांग्रेस ने दिया बड़ा झटका, पंजाब में पार्टी संगठन में भी नहीं होगी एंट्री


यह भी पढ़ें: ये हैं IAS अफसर रामवीर सिंह, मुंह पर सूती कपड़ा, हाथ में दाती लेकर संगरूर के डीसी दे रहे खास संदेश

 

हरियाणा की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

पंजाब की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप