अश्वनी पाहवा, लुधियाना

कोरोना से डरें नहीं, बिल्क सकारात्मक सोच और हौसले के साथ इसे मात दें। यह संदेश वो सब मरीज अन्य लोगों को भी दे रहे हैं जो कई बीमारियों से पीड़ित होने के बावजूद इस वायरस को मात देकर स्वस्थ हो गए हैं। महानगर में ऐसे कई मरीज मिल जाएंगे जो फिर से सामान्य जिंदगी जी रहे हैं। इनमें 80 वर्षीया पुष्पा देवी शर्मा भी शामिल हैं। इस उम्र में उन्होंने नौ दिनों में कोरोना वायरस को होम आइसोलेशन के दौरान मात दे दी।

चंडीगढ़ रोड स्थित पुलिस लाइन इलाके जैन होम्स में रहती पुष्पा देवी ने बताया कि उनके परिवार में एक बेटा, बहू, एक पोता और एक पोती है। उनके अनुसार वह काफी समय से हाई ब्लड प्रेशर की बीमारी से ग्रस्त है। अगस्त में उन्हें बुखार होने पर पारिवारिक सदस्यों ने उनका कोरोना टेस्ट करवाया तो रिपोर्ट पॉजिटिव आई। उनकी पोती सिविल अस्पताल में डॉक्टर है। उसने उन्हें होम आइसोलेट किया और उन्हें इस वायरस को हराने में अहम भूमिका निभाई। उन्होंने इस वायरस से संक्रमण होने के बाद खुद को घर में एक कमरे में क्वारंटाइन किया। इस दौरान उन्होंने प्रभु का सुमिरन किया और सभी को सुरक्षित रहने की कामना की। परिवार के सदस्यों ने उनका हौसला बढ़ाया और आखिर उन्होंने नौ दिनों में कोरोना को हरा कर पहले की तरह जीवन व्यतीत करना शुरू कर दिया। संदेश: लक्षण दिखें तो घबराएं नहीं, तुरंत टेस्ट करवाएं

पुष्पा देवी ने लोगों को संदेश दिया कि कोरोना वायरस से घबराने की जरूरत नहीं है। यदि किसी को लक्षण हों तो वह तुरंत टेस्ट करवाए और रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर मजबूत इरादे और जज्बे के साथ इसका डटकर मुकाबला करें। साथ ही उन्होंने लोगों को अफवाहों से बचने और सावधानियां बरतने की अपील भी की।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!