संवाद सूत्र, भगता भाईका (बठिंडा)। गांव जलाल के सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल में शनिवार काे जमकर हंगामा हुआ। प्रिंसिपल ने कथित रूप से जबरदस्ती छात्राें के बाल कटवा दिए। इस मौके पर बच्चों के अभिभावकों ने रोष जाहिर करते हुए कहा कि प्रिंसिपल ने बिना बताए उनके बच्चों के स्कूल में बाल कटवा दिए। एक व्यक्ति को बुलाकर करीब 50-60 बच्चों के बाल कटवाए गए। बिना बताए बच्चों के बाल कटवाकर उनके मन को ठेस पहुंचाई गई है। उन्होंने कहा कि प्रिंसिपल पर बनती कार्रवाई की जाए।

भगता भाईका के सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल जलाल में बच्चों के जबरदस्ती काटे गए बाल। (जागरण)

वहीं बच्चों ने बताया कि पहले उन्हें कक्षा में से बाहर बुलाया गया और बाद में धक्के से हमारे बाल कटवाए दिए गए। उधर, इस संबंध में प्रिंसिपल संदीप कौर ने कहा कि वह बच्चों को रोजाना कहती थी कि आप बाल कटवाकर आएं, परंतु बच्चों ने बाल नहीं कटवाए। बच्चों ने बालों पर अलग-अलग तरह के कलर और डिजाइन करवाए हुए थे। इसलिए ही उनके बाल कटवाए गए हैं। इसका विराेध करना जायज नहीं है। स्कूल में अनुशासन हर हाल में यकीनी बनाया जाएगा। बाल काटने वाले व्यक्ति ने कहा कि उसे प्रिंसिपल के कहने पर बाल काटे हैं। इसमें उनकी काेई गलती नहीं है।

यह भी पढ़ें-Punjab Assembly Election 2022: कृषि सुधार कानूनाें की वापसी के बाद ग्राउंड वर्क में जुटी भाजपा, जानें रणनीति

बच्चों को छांट कर कक्षा में बुलाने का आराेप

बच्चों के अभिभावकों का कहना है कि प्रिंसिपल की ओर से पहले ही तय किया गया था कि किन-किन बच्चों के बाल कटवाने हैं। उन्होंने पहले तो बार्बर को स्कूल बुलाया और इसके बाद एक एक बच्चों को कक्षा से बाहर लाकर उसके बाल कटवा दिए गए। बच्चों को इसकी भनक नहीं लगने दी कि बाहर उनके बाल कटवाए जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें-Income Tax Raid: लुधियाना के 2 रियल एस्टेट कारोबारियों से ढाई करोड का सोना व नकदी बरामद, मचा हड़कंप

Edited By: Vipin Kumar