लुधियाना, जेएनएन। नाभा की जेल में उम्रकैद की सजा काट रहे कुख्यात अपराधी राजीव कुमार उर्फ राजा को प्रोडक्शन वारंट पर लाने के लिए स्थानीय पुलिस के पसीने छूट रहे हैं। उसे वारंट पर लाने के लिए अदालत में याचिका दायर कर दी गई है। संभावना है कि सोमवार को अदालत उसे रिमांड पर दे भी देगी। गैंगस्टर राजा को नाभा की हाई सिक्योरिटी जेल से लुधियाना लाने के लिए पुलिस कड़ी सुरक्षा व्यवस्था का प्रबंध कर रही है। उसके खिलाफ कई जिलों और राज्यों में हत्या, लूट और मारपीट के 33 मामले दर्ज हैं।

इसके अलावा पुलिस पकड़े गए गैंग के लीडर बाल सिंह नगर निवासी विजय की तलाश में है। बता दें कि दो दिन पहले थाना डिवीजन नंबर तीन की पुलिस ने बहादुरके रोड के आजाद नगर निवासी राजन उर्फ राजा, गांव सिधवां फतेहगढ़ साहिब निवासी गुरविंदर सिंह उर्फ गुरी उर्फ शेरा, फतेहगढ़ साहिब के गांव बरास निवासी सुखचैन सिंह उर्फ चैना तथा समराला चौक निवासी रेशम सिंह उर्फ मन्ना को गिरफ्तार किया था। उनके कब्जे से .32 बोर का एक रिवॉल्वर, दो मैगजीन, नौ जिंदा कारतूस, .315 बोर के तीन रिवाल्वर (देसी कट्टे), 10 जिंदा कारतूस, एक सेंट्रो कार, एक एक्टिवा, छह फर्जी नंबर प्लेट, दो मोबाइल फोन तथा दो डोंगल बरामद हुए थे।

आरोपितों का यह गैंग जेल में ही तैयार हुआ था। उनकी योजना पिस्तौल के बल पर एसयूवी कार लूटने की थी। इस पर वो जेल में बंद राजीव राजा को छुड़ाने की फिराक में थे। आरोपितों ने शहर के 15 बुकियों से लाखों की उगाही करने के साथ होशियारपुर के एक एनआरआइ के घर से लाखों के जेवर और नकदी लूटी। उन पैसों से उत्तर प्रदेश व मध्य प्रदेश से 11 पिस्तौल खरीदे। फिलहाल चारों आरोपित सोमवार तक पुलिस के रिमांड पर हैं। उनसे पुलिस के अधिकारी गहन पूछताछ कर रहे हैं।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!