जेएनएन, लुधियाना। पंजाब कृषि विश्वविद्यालय (पीएयू) के स्टूडेंट्स ने शुक्रवार को भी अपना विरोध प्रदर्शन जारी रखा। सैकड़ों स्टूडेंट्स ने कैंपस में रोष मार्च निकाला। इस दौरान कैंपस 'साडा हक एत्थे रख' के नारों से गूंज उठा। स्टूडेंटस का रोष मार्च लाइब्रेरी के बाहर से शुरू हुआ और सभी कालेजों के बीच से गुजरा। इसके बाद स्टूडेंट्स ने थापर हाल के बाहर धरना दिया। करीब दो घंटे तक पीएयू के आला अफसरों के खिलाफ नारेबाजी की।

स्टूडेंट्स पिछले तीन दिनों से धरना प्रदर्शन कर रहे हैं, लेकिन यूनिवर्सिटी प्रशासन स्टूडेंट्स की मांगे मानने को तैयार नहीं है। अधिकारियों का कहना है कि स्टूडेंट्स की मांगे जायज नहीं हैं। इन्हें नहीं माना जाएगा। वहीं दूसरी तरफ स्टूडेंट्स का कहना है कि इस बार वह भी झुकने वाले नहीं हैं। जब तक उनकी मांगों को पूरा नहीं किया जाता, वह धरना जारी रखेंगे। उनकी मांगें जायज हैं। जब अफसरों, वीआइपी व शिक्षकों की गाड़ियां कैंपस में घूम सकती हैं, तो स्टूडेंट्स के वाहनों पर प्रतिबंध क्यों लगाया गया है। नियम सभी के लिए एक जैसे होने चाहिएं। स्टूडेंट्स ने कहा कि शनिवार व रविवार की छुट्टी के बाद वह सोमवार को दोबारा से यूनिवर्सिटी प्रशासन के खिलाफ मोर्चा खोलेंगे।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!