जागरण संवाददाता, लुधियाना। देश के अग्रणी औद्योगिक ग्रुप एयरटेल ने कॉरपोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी के तहत लुधियाना जिले में शिक्षा के क्षेत्र में अहम योगदान अदा किया है, वैसे तो भारती फाउंडेशन देश भर में समाज कल्याण के कई कार्यक्रम चला रही है, लेकिन लुधियाना से जुड़े इस कॉरपोरेट घराने के मालिकों का अपनी सरजमीं पर खास फोकस है। इसका लाभ यहां पर आर्थिक तौर पर कमजोर लोगों के बच्चों को शिक्षा के रूप में मिल रहा है। लुधियाना जिले में भारती फाउंडेशन के तहत हजारों की संख्या में बच्चे उम्दा शिक्षा हासिल कर रहे हैं। इन बच्चों को स्कूलों में विश्व स्तर की शिक्षा मॉडर्न तकनीक से दी जा रही है।

भारती फाउंडेशन देश के 14 राज्यों में 2100 स्कूलों के जरिए 14 हजार टीचरों के सहयोग से तीन-तीन लाख बच्चों को बेहतर शिक्षा मुहैया करा रही है। भारती फाउंडेशन शीघ्र ही सत्य भारती विश्वविद्यालय की स्थापना भी करेगी, जिसमें सालाना पांच लाख से कम की आय वाले परिवारों के बच्चों को मुफ्त में उच्च शिक्षा मुहैया कराई जाएगी।

फाउंडेशन के रीजनल हेड पंजाब प्रवीन चौधरी का कहना है कि लुधियाना जिले में सत्य भारती स्कूल प्रोग्राम के तहत 48 प्राइमरी एवं एलीमेंट्री स्कूल खोले गए हैं। ज्यादातर स्कूल जिले के ग्रामीण इलाकों में स्थित हैं, जबकि पंजाब सरकार के साथ मिल कर पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप में दो सत्य भारती आदर्श सीनियर सेकेंडरी स्कूल चलाए जा रहे हैं। इन स्कूलों में 432 अध्यापक आर्थिक तौर पर कमजोर 9599 बच्चों को शिक्षा मुहैया करा रहे हैं। इनमें से 49 फीसद लड़कियां हैं।

प्रवीन चौधरी का कहना है कि सत्य भारती स्कूलों में शिक्षा हासिल कर रहे बच्चे शहर के हाईटेक मॉडर्न स्कूलों के बच्चों का मुकाबला करते हैं। उनको भी गांवों में शिक्षा की तमाम अति आधुनिक सुविधाएं मुहैया कराई गई हैं। भारती ने शिक्षित भारत बनाने की दिशा में ठोस कदम उठाए हैं और समाज में बदलाव भी नजर आ रहा है।

चौधरी के अनुसार इन स्कूलों के बच्चों ने राष्ट्रीय ही नहीं, बल्कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मुकाम हासिल किया है और विभिन्न प्रतियोगिताओं में अवॉर्ड भी हासिल किए हैं। इससे बच्चों का आत्मविश्वास बढ़ रहा और वे ज्यादा मेहनत से आगे बढ़ कुछ बनने का प्रयास कर रहे हैं। शिक्षा के क्षेत्र में अव्वल रहने वाले बच्चों को उच्च शिक्षा के लिए छात्रवृति भी दी जाती है। ताकि उनकी शिक्षा में किसी भी तरह की रुकावट न आए।

चौधरी का कहना है कि भारती फाउंडेशन के सैनिटेशन प्रोग्राम के तहत सत्य भारती अभियान प्रोग्राम में जिले के 792 गांवों को कवर किया गया है। जिले में कुल 18416 शौचालय बनवाए गए हैं। इनमें 17628 शौचालय ग्रामीण इलाकों में और 774 शौचालय शहरी इलाकों में बनवा कर लुधियाना को खुले में शौच मुक्त बनाने में अहम भूमिका निभाई गई है।

इसके अलावा लड़कियों के लिए सरकारी स्कूलों में भी 14 शौचालय बनवाए गए हैं। इस अभियान का लाभ जिले के 90,871 लोगों को फायदा हुआ है। उन्होंने कहा कि भारती फाउंडेशन शिक्षा के क्षेत्र में आगे भी कई योजनाओं पर काम कर रही है।

By Nandlal Sharma