जेएनएन, खन्ना। थाना मलौद के गांव गौंसला स्थित एक घर में रेड करने पहुंची एक्साइज विभाग और पुलिस की टीम को देख बाप-बेटे ने मौके से भागने की कोशिश की। इसी दौरान दीवार फांदते समय गिरने से पिता की मौत हो गई। मृतक की पहचान कांग्रेस के पूर्व पंच अजीत सिंह के रूप में हुई है। फिलहाल उसकी मौत हार्ट-अटैक आने से होने की बात कही गई है, लेकिन कारण पोस्टमार्टम के बाद पता चलेगा। उधर पुलिस ने घर से नाजायज तौर पर रखी 10 पेटी शराब बरामद की। पुलिस ने अजीत सिंह के बेटे इकबाल सिंह के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

जानकारी के अनुसार एक्साइज विभाग और पुलिस की टीम सूचना के आधार पर इकबाल सिंह के घर छापा मारने पहुंची थी। घर में इकबाल सिंह और उसके पिता पूर्व कांग्रेसी पंच अजीत सिंह मौजूद थे। पुलिस को घर में देखते ही दोनों ने वहां से भागने की कोशिश की। इसी दौरान दोनों जब घर की छत से पिछली तरफ छलांग मार कर भागने लगे तो दीवार कूदते समय अजीत सिंह नीचे गिर पड़ा। गंभीर हालत में उसे तुरंत अहमदगढ़ के एक प्राइवेट अस्पताल में ले जाया गया, जहां डाॅक्टरों ने उसे मृतक घोषित कर दिया गया। हालांकि डाक्टरों ने मौत के कारण स्पष्ट नहीं किए। पोस्टमार्टम की रिपोर्ट के बाद ही मौत का असली कारण सामने आएगा। उधर पुलिस ने घर से 10 पेटा शराब बरामद की, जिसमें 8 पेटी शराब हरियाणा और 2 पेटी शराब उत्तरांचल की बताई जा रही है। पुलिस ने फिल्हाल अजीत सिंह के बेटे इकबाल सिंह के खिलाफ एक्साइज एक्ट के तहत केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

विरोध की आशंका, मलौद में पुलिस तैनात

अजीत सिंह की मौत के बाद पुलिस पर दबाव बनाने के मकसद से परिवार और परिजनों ने लाश शहर में रख कर धरना लगाने की योजना बनाई थी। इस कारण मलौद के हर चौंक पर पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई। वहीं डीएसपी पायल रछपाल सिंह ढींडसा, एसएचओ दोराहा हरदीप सिंह चीमा, एसएचओ मलौद नछत्तर सिंह भी मामले को सुलझाने के लिए मलौद में मौजूद रहे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!