लुधियाना, [भूपेंदर सिंह भाटिया]। Punjab Vidhan Sabha Chunav: पंजाब में अगले साल हाेने वाले विधानसभा चुनाव से पहले नेता पाला बदलने की तैयारी में जुट गए हैं। राजनीतिक पार्टियां अपने शीर्ष नेताओं को पद देकर पार्टी में बांधे रखने का प्रयास कर रही हैं, वहीं कुछ दल लोगों के बीच आधार रखने वाले प्रतिद्वंद्वी पार्टियों के नेताओं को अपने पाले में खींचने की कोशिश में लगे हैं। लुधियाना के सियासी गलियारों में एक नई चर्चा हो रही है।

शिरोमणि अकाली दल के एक शीर्ष नेता और टिकट के दावेदार पाला बदलने की तैयारी में हैं। बताया जा रहा है कि उक्त नेता हाल ही में चंडीगढ़ में आम आदमी पार्टी के शीर्ष नेता राघव चड्ढा सहित अन्य नेताओं के साथ बैठक भी कर चुके हैं। यह खबर उड़ते हुए शिअद के शीर्ष नेताओं के पास पहुंच गई है। इसकी खूब चर्चा भी हो रही है। खासबात यह है कि पाला बदलने की तैयारी में उक्त नेता को मार्च में ही पार्टी की पालिटिकल अफेयर्स कमेटी (पीएसी) का सदस्य भी बनाया गया है। लुधियाना से बनाए गए आठ पीएसी सदस्यों में से एक हैं।

शिअद की पीएसी कमेटी के उक्त सदस्य पहले भी विधानसभा चुनाव लड़ चुके हैं, लेकिन कभी जीत नहीं पाए। हालांकि शहर के व्यापारियों में उनका काफी आधार है। पहली बार हारने के बाद दूसरी बार पार्टी ने उन्हें टिकट नहीं दी तो उन्होंने पार्टी से बगावत कर चुनाव लड़ा था। फिर भी जीत हासिल नहीं हुई थी। काफी समय बाद उन्होंने फिर से पार्टी में वापसी की थी। शिअद नेताओं में ही इस बात की चर्चा है कि वह जिस क्षेत्र से चुनाव लडऩा चाहते हैं, वहां पार्टी के ही कई दावेदार हैं। उस क्षेत्र में अभी आम आदमी पार्टी का भी उतना आधार नहीं है। इसके अलावा इस बार भाजपा और शिअद के अलग-अलग उम्मीदवार मैदान में उतरेंगे। बहरहाल आप के साथ उक्त नेता की बैठक शिअद में भी चर्चा का विषय बनी हुई है।

यह भी पढ़ें-लुधियाना में पेश होगी हिंदू-सिख एकता की मिसाल, अनोखी गौशाला में छत पर लगेंगे सोलर पैनल

 

Edited By: Vipin Kumar