जागरण संवाददाता, खन्ना : रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर 3 के पास झाड़ियों में रविवार सुबह भीषण आग लग गई। आग ने कई मीटर के दायरे को अपनी चपेट में ले लिया। आग की वजह से रेल लाइन पर विजीबिलिटी काफी कम हो गई। फायर ब्रिगेड कर्मियों को आग बुझाने में काफी मशक्कत करनी पड़ रही थी। इसके चलते डेढ़ घंटे तक रेलों को रोककर रखा गया।

जानकारी के अनुसार रविवार सुबह स्थानीय रेलवे स्टेशन के साथ पड़ी खाली जमीन पर उगे सरकंडे तथा सूखी झाड़ियों को आग लग गई। आग लगने का कारण पता नहीं चल पाया है। सुबह 5.30 बजे के बाद रेलवे स्टेशन अधिकारियों ने स्टेशन के पास धुआं उठता देखा, जिसने देखते ही देखते आग का रूप धारण कर लिया। अधिकारियों ने तुंरत इसकी सूचना फायर ब्रिगेड कार्यालय को दी। फायर अधिकारी यशपाल राय गोमी के नेतृत्व में फायर ब्रिगेड मौके पर पहुंची जिसे आग बुझाने के लिए भारी मशक्कत करनी पड़ी।

पानी की बौछार करने के लिए तीन गाड़ियां लगाई गई जिसमें से दो रेल लाइन के दूसरी ओर तथा एक गाड़ी रेलवे स्टेशन के बाहर खड़ी की गई। पानी की पाइप टिकट ¨वडो साइड के सामने से रेलवे लाइनों के उपर से निकालकर ले जानी पड़ी। रेलवे सुपरिंटेंडेंट राजवंत ¨सह ने आग देख अंबाला और लुधियाना रेलवे स्टेशनों को इस संबंधी सूचित कर दिया। करीब तीन घंटे बाद आग पर काबू पाया जा सका। इस दौरान रेल यातायात बाधित रहा। वहीं कटरा से चलकर दिल्ली जाने वाली श्री शक्ति एक्सप्रेस गाड़ी नंबर 22462 खन्ना के नजदीकी कसबा चावा में रेलवे स्टेशन पर करीब एक घंटा खड़ी रही।

इस बारे में फायर अधिकारी गोमी के अनुसार उनकी टीम ने करीब तीन घंटे की कड़ी मेहनत के बाद आग पर पूरी तरह से काबू पा लिया था। गोमी ने बताया कि प्लेटफार्म नंबर 3 के पास लगी आग को समय रहते काबू कर लिया गया क्योंकि रिहायशी इलाकों दलीप ¨सह नगर, केहर ¨सह कालोनी के अलावा करीब बनी झुग्गियों तक आग के पहुंचने से भारी नुक्सान हो सकता था।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!