बिंदु उप्पल, जगराओं

सामाजिक संस्था हेल्पिंग हैंड जगराओं ने गरीब व जरूरतमंद लोगों को सस्ता खाना खिलाने की पहल की है। संस्था की ओर से तहसील रोड पर दस रुपये थाली की दुकान खोली गई है। यहा दोपहर 12 बजे से तीन बजे तक दस रुपये में भरपेट खाना मिलता है। सोमवार से शनिवार तक लोगों को यहां खाना मिलेगा। हर दिन अलग-अलग मैन्यू होगा।

हेल्पिंग हैंड जगराओं संस्था के सदस्य उमेश छाबड़ा व भूपिंदर सिंह ने बताया कि दस रुपये की थाली में सोमवार को राजमा चावला, मंगलवार को चने चावला, बुधवार को दाल-चावल, वीरवार को कड़ी-चावल, शनिवार को काले चने चावल दिए जाते हैं। सदस्य उमेश छाबड़ा ने बताया कि सोशल मीडिया पर हेल्पिंग हैंड की वीडियो देख लोग रोजाना दाल, चावल, रिफाइंड ऑयल टीन व अन्य जरूरी सामान भी दे जाते हैं ताकि गरीब व जरूरतमंद लोगों को रोजाना दस रुपये में दोपहर के समय भरपेट खाना मिल सके। स्वतंत्रता दिवस पर तहसील स्तर पर बेस्ट सोशल वर्कर का अवार्ड प्राप्त कर चुके उमेश छाबड़ा ने बताया कि उनकी संस्था की ओर से लोगों को मच्छर के कहर से बचाने के लिए चार फॉगिंग मशीनों द्वारा जगराओं व अन्य आसपास के गावों में फॉगिंग की जा रही है। क्लीनिक भी खोलेगी संस्था

समाज सेवक भूपिंदर सिंह पाली ने बताया कि संस्था की ओर से अगले माह झासी रानी चौक में मोहल्ला क्लीनिक खोला जा रहा है। वहां गरीब व जरूरतमंद लोगों का कम पैसे में इलाज होगा। शहर के सौन्दर्यकरण का बीड़ा भी उठाया

हेल्पिंग हैंड संस्था के युवाओं ने प्रधानमंत्री मोदी के नारे स्वच्छ भारत अभियान के तहत विभिन्न संस्थाएं बनाकर शहर के सौन्दर्यकरण का बीड़ा उठा लिया है। पार्को को मेनटेन किया जा रहा है। इसमें संस्थाओं के प्रतिनिधि शहर के उन हिस्सों की नुहार तेजी से बदल रहे हैं, जोकि बिल्कुल भी रहने के लायक नहीं थे। इन हिस्सों में पड़ी गंदगी के ढेर हर वर्ष सैकड़ों लोगों को बीमार करते थे। संस्था द्वारा जगराओं लाला लाजपत राय पार्क की हालात में भी बहुत सुधार किया गया। इसमें कुर्सिया व बैंच लगाए गए। पूरे पार्क को लाल, पीले व हरे रंग का रंगरोगन कर चमका दिया गया है। झूले लगाए गए हैं। पार्क में सीसीटीवी कैमरे लगे हैं। सुबह शाम सैर करने वालों के लिए म्यूजिक विद ओपन जिम की व्यवस्था की गई है। संस्था के प्रतिनिधि उमेश छाबड़ा, ननेश गाधी, भूपिंदर सिंह, विशाल पासी, हैप्पी मान, विशाल सिंगला ने बताया कि संस्था की ओर से झासी चौक में झासी की रानी के बुत की सफाई, डेंगू से बचाव के लिए रेगूलर फॉगिंग की जाती है।

Posted By: Jagran