जेएनएन, समराला।  मेन चौक के पास बुधवार को सुबह एक पेट्रोल पंप पर उस समय विवाद खड़ा हो गया जब एक किसान अवतार सिंह ने पंप से ट्रैक्टर मे डीजल में पानी मिला होने का आरोप लगाया। मौके पर किसान के साथ आए सामाजिक जत्थेबंदियां भी मौजूद थी जो पंप के टैंक में मौजूद डीजल के सैंपल की और पंप को सील करने की मांग कर रहे थे। बवाल की सूचना जब फूड सप्लाई विभाग के अधिकारियों के पास पहुंची तो विभाग के इंस्पेक्टर कमल किशोर मौके पर पहुंचे और उस डीजल के सैंपल को भी देखा जो किसान पंप पर साथ लाया था। इंस्पेक्टर ने कंपनी के सेल्स अफसर को मौके पर बुलाया।

किसान अवतार सिंह ने पंप के कर्मचारियों पर आरोप लगाया कि वह सुबह अपने ट्रैक्टर में दो हजार का डीजल डलवा कर गया था जो रास्ते में ही बंद हो गया। जब वह ट्रैक्टर को मिस्त्री के पास लेकर गया तो डीजल में पानी होने का खुलासा हुआ और उसने ट्रैक्टर में डाले डीजल में पानी मिले होने का सैंपल पंप पर मौजूद कर्मचारियों को दिखाए लेकिन कर्मचारियों ने उसको कोई उत्तर नहीं दिया, जिससे मामला भड़क गया।

फूड इंपेक्टर ने जांच होने तक डीजल की बिक्री पर लगाया

रोक फूड इंस्पेक्टर कमल किशोर ने कहा कि किसान द्वारा पंप पर लाए गए डीजल के सैंपलों को उन्होंने अपने कब्जे मे लेकर सेल्स अफसर को जानकारी दी है। सेल्स अफसर श्रीवास्तव डीजल के सैंपल लेकर लेबोरेटरी मे भेजेगा और नतीजे आने के बाद ही कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि तब तक पंप के कर्मचारियों को डीजल की बिक्री करने से रोक दिया गया है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!