जेएनएन, फरीदकोट। बहिबल कलां गोलीकांड के मुख्य गवाह पूर्व सरपंच सुरजीत सिंह की मौत पर वीरवार को दु:ख सांझा करने के लिए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिदंर सिंह की ओर से कैबिनेट मंत्री राणा गुरमीत सिंह सोढ़ी पहुंचे। मृतक की पत्नी जसबीर कौर व बेटे लखविंदर सिंह से दु:ख सांझा करते हुए राणा ने कहा कि दु:ख की इस घड़ी में परिवार के साथ सरकार खड़ी है। सुरक्षा सहित सभी तरह की मदद परिवार को दी जाएगी। इस अवसर पर उनके साथ सांसद मोहम्मद सदीक, डीसी कुमार सौरभ राज, एसएसपी मंजीत सिंह ढेसी, भाई राहुल सिद्धू के अलावा कांग्रेस नेता और अधिकारी उपस्थित रहे।

कैबिनेट मंत्री राणा गुरमीत सिंह सोढ़ी ने इस अवसर पर परिवार के साथ दु:ख साझा किया और कहा कि सुरजीत सिंह की अचानक हुई मौत से मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को व्यक्तिगत रूप से दु:ख पहुंचा है। दु:ख की इस घड़ी मेंं पीड़ित परिवार के साथ पूरी सरकार खड़ी है। राणा सोढ़ी ने कहा कि उन्होंने और लोकसभा सांसद मुहम्मद सादिक ने प्रशासनिक अधिकारियों सहित परिवार के साथ बैठक की है और उन्हें पंजाब सरकार से सुरक्षा सहित सभी मदद का आश्वासन दिया है।

उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार पूरी तरह से परिवार के साथ है। उन्होंने इस अवसर पर सुरजीत सिंह की मृत्यु पर, कुछ राजनीतिक नेताओं द्वारा राजनीतिक रोटी सेंकने की कड़ी निंदा भी की, और उन्हें इस तरह के महत्वपूर्ण मुद्दों का राजनीतिकरण नहीं करने की सलाह देते हुए ऐसे मौके पर परिवार के साथ दुःख को सांझा करना चाहिए।

सुखबीर भी पहुंचे

सुुरजीत सिंह के निधन पर शोक जताने शिरोमणि अकाली दल प्रधान सुखबीर सिंह बादल भी पहुंचे। बता दें, परिवार द्वारा कैैबिनेट मंत्री गुरप्रीत कांगड़ और विधायक कुशलदीप ढिल्लोंं पर मानसिक तौर पर प्रताड़ित करने के आरोप लगाए गए थे। सुखबीर बादल ने इनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की मांग की है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!