सबहेड : रविवार रात की घटना का सोमवार को वायरल हुई एक वीडियो के बाद हुआ खुलासा

--लुधियाना के पीएयू पुलिस थाना में चल रहा है संपत्ति विवाद

-परिजनों को सौंपा, पुलिस कर रही मामले की जांच

जागरण संवाददाता, खन्ना : नजदीकी गाव रसूलड़ा में एक नशा छुड़ाओ केंद्र में रविवार देर रात खन्ना सदर थाना पुलिस ने दबिश दी। कथित रूप से नाजायज तरीके से रखे गए एक युवक को मुक्त करवाया। पुलिस के साथ युवक के परिजन भी थे, जिनके हवाले उसे कर दिया गया। सोमवार की रात को इस संबंध में वायरल हुई एक वीडियो से मामले का खुलासा हुआ है।

लुधियाना के पीएयू थाना में चल रहे संपति विवाद में बद्दोवाल निवासी मनधीर सिंह के परिजनों ने आरोप लगाए कि दूसरे पक्ष के लोगों ने मनधीर को जबरन रसूलड़ा के नशा छुड़ाओ केंद्र में भर्ती कराया है। लुधियाना पुलिस ने इसकी सूचना खन्ना पुलिस को दी। खन्ना पुलिस ने परिजनों को साथ लेकर रविवार रात करीब 11 बजे केंद्र पर रेड की और युवक को छुड़वाया। पता चला है कि युवक पिछले 15 दिन से केंद्र में था।

पंजाबी गायक का रिश्ते में भाई है युवक: सूत्रों के अनुसार छुड़ाया गया युवक एक मशहूर पंजाबी गायक का रिश्ते का भाई है। पुलिस ने सेंटर के कागजात की जाच की, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

बाक्स

लुधियाना कचहरी से उठाया युवक को : मनधीर सिंह धीरा को लुधियाना कचहरी से केंद्र संचालकों ने उठाया था। इसकी बकायदा सीसीटीवी फुटेज युवक के परिजनों के पास मौजूद होने की बात बताई जा रही है। पुलिस इसकी भी जाच कर रही है।

बाक्स

युवक को परिजनों के साथ भेज दिया है, जाच जारी है: बख्शीश

सदर थाना के एडीशनल एसएचओ बख्शीश सिंह ने पुष्टि की कि संपत्ति विवाद में लुधियाना पुलिस की सूचना पर रसूलड़ा स्थित केंद्र पर रेड की थी। युवक को परिजनों के हवाले कर दिया है। सेंटर के कागजातों की जाच की जा रही है।

बाक्स

युवक को नाजायज नहीं रखा था : केंद्र संचालक

केंद्र संचालक अवतार सिंह ने बताया कि युवक मनधीर को केंद्र में नाजायज तौर पर नहीं रखा गया था। पुलिस को सारे कागजात दिखा दिए हैं।

Posted By: Jagran