जागरण संवाददाता, खन्ना

जगत कॉलोनी खन्ना में सीवरेज पाइपलाइन डालने के दौरान बुधवार शाम को मिट्टी गिरने से दो मजदूरों की मौत के मामले में खन्ना सिटी 1 पुलिस ने ठेकेदार प्रेम और इंजीनियर गुरविदर सिंह के खिलाफ केस दर्ज किया है। आरोपितों के खिलाफ गैर इरादतन हत्या की धारा 304-ए लगाई गई है। मिट्टी गिरने से दबे रमन कुमार यादव निवासी पूर्णिया बिहार के बयानों पर केस दर्ज किया गया है।

रमन कुमार यादव ने बताया कि वह दिलखुश और चंदन पासवन के साथ पिछले 35 दिनों से खन्ना शहर में सीवरेज का काम कर रहे हैं। बुधवार की शाम 5 बजे जब 10 फुट गहरी सीवरेज की लाईन में पाईपें डालने लगे तो अचानक मिट्टी उन तीनों पर गिर गई। वह थोड़ा एक तरफ खड़ा था और उस पर मिट्टी कम गिरी जबकि उसके साथी चन्दन कुमार और दिलखुश पूरी तरह मिट्टी में दब गए। इससे उनकी मौत हो गई। आरोप है कि ठेकेदारों ने काफी कहने पर भी उन्हें सेफ्टी किट नहीं दी थी। जिससे उसके साथियों की मौत हो गई।

मिट्टी गिरने का कारण बनीं गली में खोदी गई खूहियां

जानकारों के अनुसार यह हादसा जगत कॉलोनी की तंग गली में हुआ। इस हादसे में बड़ा कारण लोगों द्वारा शौचालय के लिए गलियों में बनाई खूहियां हैं। खूहियों के कारण यहां सीलन बनी हुई थी। जब सीवरेज के लिए गड्ढा खोदा गया तो मिट्टी खिसक गई। यह बात भी सामने आई है कि मजदूरों की तरफ से गली में सभी घर वालों को गेट खोल वहां मिट्टी फेंकने देने की बात कही थी। लेकिन, दो घरों ने उनकी बात नहीं मानी थी। इस कारण मिट्टी गली में ही फेंकनी पड़ी और बाद में वह मजदूरों पर गिर गई।

घर को आईं दरारें, मुआव•ा मांगा

मिट्टी में दबे मजदूरों को जब बाहर निकालने के लिए बचाव कार्य चल रहे थे तो एक तऱफ से ज्यादा मिट्टी खिसक कर खाई में गिर गई। इससे एक घर की नींव भी हिल गई और घर की दीवारों पर दरार आ गई। घर के मालिक सुरिन्दर कुमार ने एसडीएम खन्ना सन्दीप सिंह के ध्यान में यह मामला लाया और नुकसान का मुआवजा मांगा। कंपनी मालिक को भी नामजद करने की मांग

ठेकेदार प्रेम और इंजीनियर गुरविन्दर सिंह के ़िखला़फ हुए मामले में शहर वासियों ने धारा बढ़ाने की मांग की। साथ ही मृतकों को मुआवजा और कंपनी मालिक को नामजद करन की भी मांग की गई। यूथ अकाली दल कोर समिति सदस्य यादविन्दर सिंह यादू के नेतृत्व में एसडीएम संदीप सिंह, डीएसपी खन्ना राजन परमिन्दर सिंह और थाना सिटी -1 प्रमुख कुलजिन्दर सिंह से मुलाकात की गई। उन्होंने मांग की कि इस मामले में मुख्य ठेकेदार अशोक कुमार को शामिल किया जाए और धारा 304-ए की जगह 304 लगाई जाए। मृतकों दिलखुश और चन्दन कुमार के स्वजनों को मुआव•ा दिया जाए। लोगों ने कहा कि यदि उन की मांगें पूरी न की गई तो वे प्रशासन के खिलाफ संघर्ष करने को मजबूर होंगे। इस मौके पार्षद राजिन्दर सिंह जीत, पार्षद पति हरजीत सिंह भाटिया, अनिल शुक्ला, पार्षद सुखदेव सिंह, रघुइन्द्र शर्मा, विक्की बूलेपुर, अनवर ़खान भी उपस्थित थे। शिवसेना ने की कार्रवाई की मांग

शिव सेना हिदुस्तान मजदूर सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनुज गुप्ता ने मजदूरों की मौत पर दुख जताया। उन्होंने खन्ना प्रशासन से मामले की जांच कर आरोपितों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!