जागरण संवाददाता, लुधियाना : ग्यासपुरा फ्लैट्स में कब्जा करने वालों ने वीरवार को निगम अफसर की जमकर धुनाई की। पुलिस ने निगम अफसरों पर हमला करने वालों के खिलाफ मामला दर्ज किया तो गुस्साए कब्जाधारी शुक्रवार को नेशनल हाईवे नंबर एक को जाम करने के लिए शेरपुर में पहुंच गए। कब्जाधारियों ने एसपीएस अस्पताल के सामने नेशनल हाईवे को रोका। कब्जाधारियों ने चक्का जाम उस समय किया जब कुछ देर बाद ही वहा से सदा-ए-सरहद बस निकलने वाली थी। कब्जाधारी बस को न रोक लें तो पुलिस ने पहले उन्हें खुद ही हटने को कहा लेकिन जब वह नहीं माने तो पुलिस ने लाठी चार्ज शुरू कर दिया। लाठी चार्ज की वजह से कब्जाधारियों को आशिक तौर पर चोटें भी आई। ग्यासुपरा फ्लैट्स पर कब्जा करने वाले पुलिस के खिलाफ धरना देने की योजना सुबह से बना रहे थे। पुलिस को जैसे ही सूचना मिली तो पुलिस ने भी कब्जाधारियों से निपटने के लिए पूरे इंतजाम किए थे। कब्जाधारियों ने सिर्फ पाच मिनट ही ट्रैफिक को रोका था इतने में पुलिस ने उन्हें वहा से उठने के लिए कह दिया। जब कब्जाधारी अपनी जिद पर अड़े रहे तो पुलिस ने लाठी चार्ज कर दिया। मौके पर पहुंचे एडीसीपी संदीप शर्मा का कहना है कि इन लोगों ने वीरवार को निगम अफसरों पर भी हमला किया है और अब फिर से नेशनल हाईवे जाम कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सदा-ए-सरहद बस निकलने का वक्त था इसलिए इन्हें वहा से हटने के लिए कहा गया। जब नहीं मानें तो पुलिस ने उन्हें वहा से जबरदस्ती हटाया। एडीसीपी ने बताया कि 15 लोगों को नामजद करके बाकी अन्य पर नेशनल हाईवे रोके जाने का पर्चा दर्ज कर लिया गया है।

Posted By: Jagran